युवराज सिंह ने बैटिंग कोच विक्रम राठौड़ पर उठाए सवाल, रवि शास्त्री को भी लिया आड़े हाथ

नई दिल्ली. टीम इंडिया के पूर्व ऑलराउंडर और 2 बार के वर्ल्ड कप विजेता युवराज सिंह (Yuvraj Singh) ने भारतीय टीम के मौजूदा बैटिंग कोच विक्रम राठौड़ (Vikram Rathour) की टी-20 फॉर्मेट में खिलाड़ियों के मार्गदर्शन की क्षमता पर सवाल उठाए हैं. उन्होंने ये बात इंस्टाग्राम पर लाइव चैट के दौरान कही.

भारत की 2007 टी20 वर्ल्ड कप और 2011 विश्व कप विजेता टीमों का हिस्सा रहे युवराज ने एक इंस्टाग्राम सेशन में कहा,‘राठौड़ मेरा दोस्त है. क्या आपको लगता है कि वो टी20 खिलाड़ियों की मदद कर सकता है. उसने उस स्तर पर क्रिकेट खेला ही नहीं है.

युवराज ने कहा कि एक ऐसा खिलाड़ी जिसने कभी टी-20 मैच खेला ही नहीं वो कैसे भारतीय बल्लेबाजों का उस फॉर्मेट में मार्गदर्शन कर सकता है? युवराज ने कहा कि अलग-अलग खिलाड़ियों के साथ अलग तरीके से पेश आना पड़ता है.

राठौड़ को 2019 में संजय बांगड़ के स्थान पर टीम इंडिया का बल्लेबाजी कोच नियुक्त किया गया था. राठौड़ ने भारत के लिये 1996 से 1997 के बीच 6 टेस्ट और सात वनडे खेले हैं.

राठौड़ को आड़े हाथ लेने के बाद युवराज ने हेड कोच रवि शास्त्री (Ravi shastri) की कोचिंग पर भी सवालिया निशान लगा दिया. पिछले साल अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने वाले युवराज ने भारतीय टीम के कोच रवि शास्त्री की कोचिंग पर भी सवाल उठाया.

युवराज ने कहा कि अगर मैं टीम इंडिया (Team India) का कोच होता तो जसप्रीत बुमराह (Jasmeet Bumrah) को रात 9 बजे गुडनाइट बोल देता और हार्दिक पंड्या (Hearty Pandya) को दस बजे ड्रिंक्स पर ले जाता. युवराज ने कहा कि टीम के मौजूदा खिलाड़ियों के पास बात करने और सलाह लेने के लिए कोई नहीं है.

इसके साथ ही युवराज ने किंग्स इलेवन पंजाब के साथ अपने कड़वे अनुभव को शेयर किया. युवराज सिंह ने कहा, ”आईपीएल फ्रेंचाइजी किंग्स इलेवन (Kings xi Punjab) के लिए खेलते हुए अनुभव अच्छा नहीं था. टीम के काम करने का तरीका मुझे पसंद नहीं था, अगर कोई चीज मुझे पंसद थी बस टीम के लिए बनाई गई आउटफिट.

Leave a Reply

%d bloggers like this: