Yuvraj Singh
Sports News:Yuvraj Singh
  • युवराज को टीम इंडिया के शॉर्टर फॉर्मेट के बेस्ट बल्‍लेबाजों में शुमार किया जाता था
  • युवराज सिंह एक ऐसा खिलाड़ी जिसने अकेले अपने दम पर न सिर्फ भारत को दो विश्व कप खिताब दिलवाए

खेल डेस्क. भारतीय क्रिकेट टीम के सबसे विस्फोटक बल्लेबाज युवराज सिंह ने इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास का ऐलान कर दिया हैं. युवराज सिंह ने अपने संन्यास के दौरान बात करते हुए कहा कि अब आगे बढ़ने का समय आ गया है.

युवराज को टीम इंडिया के शॉर्टर फॉर्मेट के बेस्ट बल्‍लेबाजों में शुमार किया जाता था. युवराज सिंह ने 40 टेस्‍ट, 304 वनडे और 58 टी20 इंटरनेशनल मैचों में भारतीय टीम का प्रतिनिधित्‍व किया हैं.
युवराज ने कहा कि वह काफी समय से क्रिकेट को अलविदा कहने के बारे में सोच रहे थे.

अब उनका प्लान आईसीसी द्वारा मान्यता प्राप्त टी-20 टूर्नामेंट्स में खेलने का है. इसके साथ ही युवी ने उन भरोसा जताने के लिए गांगुली को शुक्रिया कहा. पिछले कई सालों से टीम इंडिया के लिए खेल रहे युवराज सिंह ने ऐसी कई यादगार पारियां खेली हैं, जिन्हें भूल पाना नामुमकिन है.

चैंपियंस ट्रॉ़फी से अपने करियर आगाज करने वाले युवराज सिंह ने अपनी चमक बिखेरी साल 2000 में. युवराज सिंह एक ऐसा खिलाड़ी जिसने अकेले अपने दम पर न सिर्फ भारत को दो विश्व कप खिताब दिलवाए बल्कि एक ऐसा इंसान जिसने यह सिखाया कि आखिर हारी बाजी को कैसे अपने नाम किया जाता हैं.

युवराज ने साल 2011 के विश्व कप में जो खेल दिखाया उसके आगे सब टीमों के हौसलें पस्त हो गए. वो भी तब जब युवी अपने करियर के सबसे बुरे दौर यानी कैंसर जैसी जानलेवा बिमारी से जूझ रहे थे. लेकिन युवराज ने हार नहीं मानी और मैदान पर खून की उल्टी करने के बाद भी क्रीज पर टीम को जीत दिलाने के लिए लड़ते रहे.

कई बार तो लगा युवराज सिंह बीच मैदान से वापस लौट जायेंगे मगर युवराज तो हार को हराने वाले थे. उनके जूनून के आगे बस पीछे छूट गया. युवराज ने इस टूर्नामेंट में टीम के लिए सबसे ज्यादा रन बनाए बल्कि वो टूर्नामेंट के सबसे कामयाब स्पिनर भी रहे. टीम इंडिया की विश्व जीत के असल हीरो तो युवराज सिहं ही थे.

इसलिए उन्हें मैन आफ द टूर्नामेंट के खिताब से भी नवाजा गया. युवराज सिंह की कुव्वत का अंदाजा हर खिलाड़ी को गया था. जिन मैदानों में बाकी बल्लेबाज एक -दो रन तशालते थे वहीं युवराज सिंह उन मैदान में खडे खडे ही बॉल को स्टेडियम के बाहर भेज देते है.इसी खास टेलेंट के दम पर युवराज सिंह को दुनियाभर में सिक्सर किंग के नाम से जाना गया.

कहते है कुछ चीजों में ऊपर वाले की नेमत होती है. इसी तरह की बात युवराज के बैटिंग स्टाइल के लिए कही जाती है. युवराज की टाइमिंग और उनका नेचुरल बैट फलो के साथ ही उनकी बैकलिफ्ट ने उन्हें क्रिकेट के महान खिलाड़ियों से भी अलग पहचान दिलाई.

Trending Tags- Team India’s Cricket Schedule 2019 | Yuvraj Singh | Icc World Cup 2019 Teams

Leave a Reply