राजभर पर गिरी गाज, इस कारण हुए योगी कैबिनेट से बर्खास्त…
  • ओमप्रकाश राजभर की पार्टी के अन्य सदस्य जो विभिन्न निगमों और परिषदों में अध्यक्ष और सदस्य हैं, सभी को तत्काल प्रभाव से हटा दिया गया है
  • ओमप्रकाश राजभर ने भी इस पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि वो सीएम के फैसले का स्वागत करते हैं

नई दिल्ली. उत्तर प्रदेश में बीजेपी के सहयोगी सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष और कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर को पद से बर्खास्त कर दिया गया है. यूपी के राज्यपाल राम नाईक ने इसकी मंजूरी दे दी है. राजभर पिछड़ा वर्ग कल्याण और दिव्यांग जन कल्याण मंत्री के पद पर थे.

ओमप्रकाश राजभर की पार्टी के अन्य सदस्य जो विभिन्न निगमों और परिषदों में अध्यक्ष और सदस्य हैं, सभी को तत्काल प्रभाव से हटा दिया गया है.

सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर को मंत्रिमंडल से बर्खास्त कर दिया गया है. सीएम योगी आदित्यनाथ ने आज यानी सोमवार सुबह ही राज्यपाल रामनाईक से उन्हें हटाने की सिफारिश की थी जिस पर राज्यपाल ने सहमति दे दी.

ओमप्रकाश राजभर ने भी इस पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि वो सीएम के फैसले का स्वागत करते हैं. गरीबों के साथ अन्याय हो रहा है. राजभर ने पहले भी इस्तीफे की पेशकश की थी लेकिन मुख्यमंत्री ने उनका इस्तीफा मंजूर नहीं किया था.

सातवें चरण के चुनाव प्रचार के दौरान राजभर घोसी संसदीय क्षेत्र की एक सभा में तो वो बीजेपी को गाली देते हुए नजर आए. इस मामले में उन पर मुकदमा भी दर्ज हुआ है.

इससे पहले लोकसभा चुनाव 2019 में बीजेपी से अलग हुए ओमप्रकाश राजभर चंदौली में बड़ा बयान दिया था. ओमप्रकाश राजभर ने कहा, “नून रोटी खाएंगे, बीजेपी को हराएंगे.

राजभर ने चुनाव के दौरान बसपा सुप्रीमो मायावती के अगला प्रधानमंत्री बनने की बात कही थी. वहीं, पूरे मामले पर राजभर का बयान आया है. उन्होंने कहा कि हम उनके फैसले का स्वागत करते हैं. सीएम ने बहुत अच्छा फैसला लिया है.

ओमप्रकाश राजभर का कहना है, ‘मैंने तो पहले ही अपना इस्तीफा दे दिया था, अब उनका जो मन हो वो करें. वो कह रहे थे कि हम उनकी पार्टी से चुनाव लड़ें, ऐसा करने पर तो हमारी पार्टी का अस्तित्व खत्म हो जाता. जिस विचार को लेकर हम आगे बढ़ रहे हैं, वो खत्म हो जाता.’

राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि ये फैसला 20 दिन पहले लेना चाहिए था. हालांकि उन्होंने अपनी बर्खास्तगी के फैसले का स्वागत करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री ने सही फैसला किया है.

Trending Tags- Lok Sabha Election 2019 | Omprakash | Election 2019 | Political News| Election News | Up News

%d bloggers like this: