yogi ( file photo)

लखनऊ. यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने समीक्षा बैठक के दौरान अधिकारियों को कड़े निर्देश देते हुए कहा कि हर अधिकारी प्रतिदिन कम से कम दो घंटे अपने कार्यालय में बैठकर जनता का समस्यायें सुनें.

उन्होंने ये भी कहा कि जिले में जिलाधिकारी और जिला पुलिस प्रमुख कानून और शांति व्यवस्था के लिये सीधे जिम्मेदार होंगे.

पहले चरण में कानून व्यवस्था को लेकर हुई बैठक के बाद मुख्य सचिव डॉ. अनूप चंद्र पाण्डेय ने बताया कि मुख्यमंत्री ने अफसरों को कानून व्यवस्था में सुधार के कड़े निर्देश दिये.

उन्होंने अफसरों को पुलिस की विजिबिलिटी बढ़ाने के साथ ही फुट पेट्रोलिंग बढ़ाने की बात कही. मुख्य सचिव ने बताया कि मुख्यमंत्री योगी ने अधिकारियों से कहा है कि प्रदेश की कानून व्यवस्था को ठीक रखने के लिए वे निष्पक्षता और निर्भीकता के साथ काम करें.

आपराधिक तत्वों पर पैनी नजर रखें. मुख्यमंत्री ने अधिकारियों से कहा कि वे प्रतिदिन नौ बजे से 11 बजे तक अपने कार्यालय में बैठकर जनता की समस्यायें अवश्य सुने और उसका तत्काल निस्तारण करें. उन्होंने कहा कि जनता से संवाद बनाये रखना सुशासन के लिये बहुत आवश्यक है.

इसके अलावा मुख्यमंत्री ने राजधानी में बैठे राज्य स्तर के अधिकारियों से भी कहा कि वे भी जिलों का दौरा कर नियमित रुप से स्थितियों की समीक्षा करते रहें.

हिन्दुस्थान समाचार/पीएन द्विवेदी

Leave a Reply