WORLD REDCROSS DAY : जानें क्यों मनाते हैं आज का दिन

दुनिया भर में आज वर्ल्ड रेडक्रॉस डे यानी विश्व रेडक्रॉस दिवस मनाया जा रहा है. इस दिन को इंटरनेशनल रेडक्रॉस सोसायटी (International Redcross Society) के संस्थापक हेनरी ड्यूनैंट (Henry Dunant) के जन्मदिन के अवसर पर मनाा जाता है.

क्या है रेडक्रॉस

रेडक्रॉस (Redcross) एक संस्था है. ये संस्था युद्ध में घायल हुए लोगों को इमरजेंसी की स्थिति में मदद की थी. इस संस्था का काम है कि स्वास्थ के प्रति लोगों को जागरूक किया जा सके. इसकी स्थापना 1863 में हुई थी. इसका मुख्यालय जेनेवा (Geneva) में है.

1901 में मिला नोबल प्राइज

हेनरी ड्यूनैंट (Henry Dunant) को उनकी मानव सेवा के लिए 1901 में पहला नोबल पुरस्कार दिया गया. यह बात हम जानते हैं कि रेड क्रॉस ने वर्ल्ड वार फर्स्ट और वर्ल्ड वार सैकेंड में इसे लेकर कई तरह से मदद की थी.

रेडक्रॉस सोसायटी (Redcross Society) ने घायल सैनिकों और नागरिकों को स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराई थीं. इसके बाद 1917 में दूसरी दफा एक और बार रेडक्रॉस संस्था को नोबल प्राइज मिला.

सबसे पहले इस दिन मनाया

पहले विश्व युद्ध के बाद रेड क्रॉस के 14वें इंटरनेशनल क्रॉन्फ्रेंस में इस दिन को मनाने की शुरूआत की गई थी. हालांकि 1934 में इसके सिद्धांतो को मान्यता मिली.

इसके बाद ही इसे दुनिया भर में लागू किया गया. मगर इसे अलस में नियमित रूप से मनाना शुरू किया गया 1948 से. पहली बार 8 मई 1948 को पहली बार विश्व रेडक्रॉस डे मनाया गया था.

इस साल ये है थीम

इस बार रेडक्रॉस डे के लिए थीम “प्रेम या केवल प्रेम” है. इस मौके पर दुनिया भर में कई जगहों पर ब्लड डोनेशन कैंप का आयोजन किया जाता है. हर दिन समाज को स्वैच्छिक चिकित्सा सेवाएं प्रदान करने का अवसर भी मिलता है.

%d bloggers like this: