WORLD POPULATION DAY: इसलिए हुई शुरूआत
  • राष्ट्र विकास कार्यक्रम की संचालक परिषद ने 1989 में पहली बार World Population Day को मनाया गया
  • जागरूकता कार्यक्रमों के जरिए परिवार नियोजन के महत्व जैसे महत्वपूर्ण मुद्दों के बारे में बताने की शुरूआत की गई

विश्व में लगातार बढ़ती जनसंख्या चिंता का मुख्य मुद्दा है. इसी के मद्देनजर 11 जुलाई को बढ़ती जनसंख्या के खतरों को बताने के लिए मनाया जाता है.

संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम की संचालक परिषद ने 1989 में पहली बार इस दिवस को मनाया गया. उस समय इसकी जरूरत हुई थी. संयुक्त राष्ट्र ने ये अनुभव किया था कि इस तरह से खास दिन मनाकर दुनिया का ध्यान बढ़ती हुई जनसंख्या की ओर लाया जा सकता है.

परिवार नियोजन मुख्य मकसद

इसके बाद से ही विश्व जनसंख्या दिवस मनाया जाने लगा. इसके जरिए जागरूकता कार्यक्रमों के जरिए परिवार नियोजन के महत्व जैसे महत्वपूर्ण मुद्दों के बारे में बताने की शुरूआत की गई.

इसके साथ ही कार्यक्रमों में हिस्सा लेने, लैंगिक समानता, माता-बच्चा के स्वास्थ्य, गरीबी, गर्भनिरोधक दवाओं आदि दैसे मसलों पर विचार करना शुरू किया गया. इनके बारे में लोगों को भी जागरूक किया गया.

पिछले साल विश्व जनसंख्या दिवस की थीम परिवार नियोजन थी. आज भी भारत में कई कारणों से जनसंख्या वृद्धि हो रही है. ये न सिर्फ समाज बल्कि स्वास्थ्य के लिए भी बेहद खतरनाक है.

आज भी भारत के कई हिस्सों में महिलाएं कम उम्र में ही मां बन जाती हैं. इससे मां और बच्चा दोनों के ही स्वास्थ्य पर अनुकूल असर पड़ता है. आज के समय में भी कई जगहों पर रूढिवादी परंपरा ही जारी रहती है.

जानकारी का भी आभाव

आज की 21वीं सदी में भी लड़कियों के पास गर्भनिरोधक से संबंधित जानकारी का आभाव होता है. शादी होने से पहले भी उन्हें इससे संबंधित कोई जानकारी नहीं दी जाती है.

बच्चों से ज्यादा वृद्ध

वहीं संयुक्त राष्ट्र की एक रिपोर्ट की मानें तो अगर आबादी बढ़ने की रफ्तार इतनी ही बनी रही तो जल्द ही वैश्विक स्तर पर इसका आंकड़ा लगभग 10 अरब तक पहुंच सकता है.

आज से समय में भी दुनिया की कुल आबादी 7.7 अरब के लगभग है. कुछ समय पहले आई एक रिपोर्ट में देखा गया कि जब 65 साल से भी ज्यादा उम्र के लोगों की आबादी 5 साल के बच्चों की आबादी से भी ज्यादा है.

Trending Tags- World Population Day | Population Day | Aaj Ka Taja Khabar | News In Hindi

Leave a Comment

%d bloggers like this: