राजस्थानः महिला विधायकों ने मुख्यमंत्री गहलोत के साथ मनाया रक्षाबंधन

Ashok Gehlot
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

जैसलमेर, राजस्थान।

राजस्थान में पैदा हुए सियासी संकट के बीच जैसलमेर के सूर्यगढ़ पैलेस में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सोमवार को रक्षाबंधन का त्योहार महिला विधायकों के साथ मनाया. विधायकों ने एक-दूसरे को रक्षापर्व की बधाई दी और हमेशा एक-दूसरे के साथ खड़े रहने का संकल्प किया.

कांग्रेस की एक दर्जन महिला विधायकों ने होटल में ही सीएम, मंत्रियों के साथ अन्य विधायकों की कलाई पर रक्षा सूत्र बांधें. साथ ही उनकी लंबी आयु की कामना की. रक्षाबंधन के मौके पर मुख्यमंत्री गहलोत की ओर से सभी विधायकों को होटल में सोमवार सवेरे के भोजन में खास तरह के पकवान दिए जाएंगे.

बाड़ाबंदी में शामिल महिला विधायकों को रक्षाबंधन के पर्व पर परिवार से दूर होने का दुख भी सताया. महिला और पुरुष विधायकों ने फोन कॉल और वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए परिजनों के साथ रक्षाबंधन के पर्व की खुशियां साझा की.

मुख्यमंत्री रविवार को मुख्य सचेतक महेश जोशी और खेल मंत्री अशोक चांदना के साथ जैसलमेर पहुंचे थे. रात में विधायक भरोसी लाल जाटव का 72वां जन्मदिन मनाया गया. पांच बार से विधायक जाटव के जन्मदिन के मौके पर मुख्य सचेतक महेश जोशी, विधायक संयम लोढ़ा की मौजूदगी में केक काटकर खुशियां बांटी गई.

जैसलमेर में बाड़ाबंदी के चौथे दिन सोमवार सुबह की शुरुआत योग, मार्निंग वॉक व कसरत से हुई. मंत्री प्रमोद जैन भाया ने लौद्रवा के जैन मंदिर में पूजा-अर्चना की. हॉर्स ट्रेडिंग के डर को देखते हुए विधायकों से कहा गया है कि वे न तो वे होटल से बाहर जाएंगे और न उनके रिश्तेदार आएंगे.

जैसलमेर के होटल में अब गहलोत गुट के 91 विधायक पहुंच चुके हैं. पहले सभी विधायक सूर्यगढ़ होटल में थे. इनमें से अब कुछ को गोरबंद होटल में ठहराया गया है.

दूसरी तरफ गहलोत सरकार की बाड़ेबंदी को लेकर भाजपा ने सोशल मीडिया पर कैंपेन शुरू किया है. बीजेपी ने ट्विटर पर बाड़े में सरकार हैशटेग से मोर्चा खोला है. बीजेपी नेताओं का कहना है कि सरकार होटल से बाहर निकले और जनता के बीच जाकर सेवा करें.

हिन्दुस्थान समाचार/रोहित