यूपीः महिला सुरक्षा को लेकर हर थाने में होगी महिला हेल्प डेस्क

CM Yogi
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

लखनऊ, यूपी।

हाथरस और बलरामपुर कांड के बाद यूपी में महिला सुरक्षा एक बड़ा मुद्दा बन गया है. महिलाओं की सुरक्षा और सम्मान को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज (गुरुवार को) अहम निर्णय लिया. सीएम योगी ने महिला सुरक्षा के लिए हर थाने में एक महिला हेल्प डेस्क की स्थापना करने के निर्देश दिए हैं.

इसके साथ ही राज्य सरकार द्वारा लागू किया जा रहा ‘मिशन शक्ति’ अभियान शारदीय नवरात्रि से लेकर बासंतिक नवरात्रि तक निरन्तर चलाया जाएगा. महिला एवं बालिका सुरक्षा को देखते हुए यह राज्य सरकार का एक विशेष अभियान है. मुख्यमंत्री ने सभी जिलाधिकारियों को अपने-अपने जनपदों में इस अभियान को प्रभावी ढंग से लागू और माॅनिटरिंग करने के निर्देश दिए हैं.

सीएम योगी आदेश दिया कि नोडल अधिकारी इन कार्यों की समीक्षा करें. दरअसल हाथरस प्रकरण में हुई सियासत के बाद सरकार महिला सुरक्षा के मुद्दे पर बेहद गम्भीरता बरत रही है. मुख्यमंत्री इससे पहले महिला सुरक्षा को लेकर कई कड़े कदम उठा चुके हैं. उन्होंने एंटी रोमियो स्क्वॉड की सक्रियता को और बढ़ाने को भी कहा है.

मुख्यमंत्री ने कहा है कि महिला व बाल अपराध की मॉनिटरिंग के लिए हर जिले में मॉनिटरिंग कमेटी की नियमित बैठकें की जाएं. पॉक्सो व महिला अपराध संबंधी वादों के निस्तारण के लिए तेजी से कदम बढ़ाए जाएं. इसमें शिथिलता व लापरवाही की दशा में अभियोजन अधिकारी की जवाबदेही भी तय की जाए.

‘मिशन शक्ति’ अभियान के तहत महिला सुरक्षा व सम्मान के बारे में सोशल मीडिया व अन्य माध्यमों के जरिए व्यापक प्रचार-प्रसार भी किया जाएगा. सभी शिक्षण संस्थानों में भी व्यापक स्तर पर छात्र-छात्राओं को महिला सुरक्षा व सम्मान के प्रति जागरूक किया जाएगा. मिशन शक्ति से जुड़े ऑनलाइन कार्यक्रम भी किए जाएंगे.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देशों के तहत अभियान के दौरान लैंगिक आधारित संवेदीकरण, प्रशिक्षण, कॉरपोरेट एक्टिविटी, ध्वनि संदेश, साक्षात्कार, दुर्गा पूजा व अन्य सांस्कृतिक कार्यक्रम के जरिए लोगों में लोगों में जागरूकता पैदा की जाएगी.

हिन्दुस्थान समाचार/संजय