बहन ने नक्सली हमले में शहीद हुए भाई को रक्षा बंधन पर ऐसे किया याद

31 अक्टूबर 2018 को नक्सली हमले में शहीद हुए सहायक कांस्टेबल राकेश कौशल की बहन ने रक्षा बंधन पर भाई की बंदूक को राखी बांधकर मिसाल पेश की है. इसी नक्सली हमले में दो अन्य पुलिसकर्मी और एक दूरदर्शन के कैमरामैन ने भी अपनी जान गंवा दी थी.

बता दें कि शहीद राकेश की बहन कविता को पुलिस में राकेश की जगह पर कॉन्स्टेबल की नौकरी मिली है. खास बात तो ये है कि राकेश की ये राइफल उनकी बहन को ही आवंटित की गई है. इस साल रक्षाबंधन पर भले ही उसका भाई मौजूद नहीं था पर कविता ने उनकी राइफल को ही राखी बांध दी.

कविता का कहना है कि भाई का सपना पूरा करने के लिए वो पुलिस में भर्ती हुई है. राकेश हमेशा से उसे पुलिस की वर्दी में देखना चाहते था.

कविता ने कहा, ”मुझे अपने भाई की जगह पर छत्तीसगढ़ पुलिस में नौकरी मिली है. मैंने विभाग से अनुरोध किया था कि मैं उसी बंदूक का उपयोग करना चाहती हूं जो मेरे भाई सेवा में इस्तेमाल करते थे. नक्सली कायर होते हैं. मैं दंतेश्वरी सेनानियों से जुड़ना चाहती हूं और मेरे भाई की मौत का बदला लेना चाहती हूं.”

बेहद भयानक था वो मंजर

दंतेवाड़ा के अरणपुर थानाक्षेत्र के निलावाया इलाके में नक्सलियों ने ​कवरेज के लिए निकले डीडी न्यूज की टीम पर हमला कर दिया. इस दौरान सुरक्षा बल के जवानों के साथ भी उनकी मुठभेड़ हुई. मुठभेड़ में मौके पर ही दो जवान और एक कैमरापर्सन की मौत हो गई थी. इस हमले में घायल जवान रा​केश कौशल का इलाज राजधानी रायपुर के एक निजी अस्पताल में चल रहा था पर इलाज के दौरान उनकी भी मौत हो गई थी.

Leave a Reply

%d bloggers like this: