Arogya Setu की इन खासियतों के बारे में नहीं जानते होंगे आप, अब तक 7 करोड़ से भी ज्यादा लोगों ने किया डाउनलोड

aarogya setu
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

नई दिल्ली. कोरोना वायरस को लेकर रोजाना कोई न कोई अफवाह सुनने को मिल ही जाती है. जिसके कारण लोग परेशान हो जाते हैं. ये महामारी दुनिया में इस समय तेजी से फैल रही है. लेकिन उतनी ही तेजी से इस से जुड़ी अफवाहें भी फैल रही है.

इन अफवाहों को फैलता देख ही मोदी सरकार आरोग्य सेतु एप लेकर आई थी. जिसे अभी तक कुल 7.5 करोड़ लोग डॉउनलोड कर चुके हैं. कोरोना वायरस से लड़ने के लिए आरोग्य सेतु एप को सरकार ने सबसे अहम हथियार बताया है.

आरोग्य सेतु एप एक कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग एप है. कोरोना वायरस के संक्रमण को ट्रेस करने के लिए केवल भारत ही नहीं, बल्कि कई देश इस तरह के एप की मदद ले रहे हैं.

आरोग्य सेतु कोरोना से जोखिम का स्तर बताता है. यह एप सेल्फ असेसमेंट टेस्ट में दिए गए लक्षणों, बीमारियों जैसी जानकारियों और आपकी लोकेशन के आधार पर बताता है कि आपको कोरोना का कितना जोखिम है.

आपको टेस्ट की, डॉक्टर को दिखाने की या फोन पर परामर्श की जरूरत है या नहीं. एप पर प्रदेश और सेंट्रल हेल्पलाइन नंबर भी हैं. यही नहीं यह आपको ट्वीट फीड के जरिए कोरोना से जुड़ी लाइव जानकारियां भी देता रहता है.

ये मुफ्त एप एंड्रॉयड और आइओएस पर भी उपलब्ध है. इस एप में कुछ प्राइवेसी है लेकिन इसकी वजह से इसके डाउनलोड में कोई फर्क नहीं आया.

आरोग्य सेतु एप आपके ब्लूटूथ और लोकेशन का इस्तेमाल करता है. इससे एक यूजर को ये पता चलता है कि वो सुरक्षित लोकेशन में है या नहीं. वहीं ये एप ये भी जानकारी देता है कि आप किसी संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आए हैं या नहीं.