# Election2019: कन्हैया कुमार पर लगा गंभीर आरोप

बिहार के बेगूसराय से चुनावी अखाड़े में उतरे कन्हैया कुमार पर लगा हमला कराने का आरोप. दस नामजद समेत सौ लोगों पर मामला दर्ज हुआ है.

गढ़पुरा में कन्हैया कुमार का विरोध कर रहे युवकों के साथ मारपीट का मामला तूल पकड़ता जा रहा है. मारपीट में घायल राहुल कुमार ने दस नामजद समेत सौ अज्ञात लोगों के खिलाफ गढ़पुरा थाना में मामला दर्ज कराया है. जिसमें कन्हैया के इशारो पर हमला करवाने का आरोप लगा है.
मामले में एआईएसएफ के जिलाध्यक्ष सजग सिंह, भाकपा के अंचल मंत्री विपिन सिंह, मालीपुर मुखिया राजेंद्र सहनी, राजेंद्र सहनी के पुत्र दीपक सहनी, पूर्व मुखिया ओम प्रकाश यादव, पूर्व मुखिया जय प्रकाश यादव, दीपक कुमार, साकेत कुमार, अमीर खान, अशोक यादव समेत सौ लोगों पर परंपरागत हथियारो के बल पर विरोधी विचारधारा के युवकों और सड़क किनारे खड़े कुछ लोगों पर जानलेवा हमला करने का आरोप लगाया गया है.

डीएम राहुल कुमार ने कहा कि मामला दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है. दूसरी ओर कन्हैया ने इसे बीजेपी के सर डालने की कोशिश की.

कन्हैया ने अपने बचाव में लगाए बीजेपी पर आरोप

कन्हैया ने कहा कि बेगूसराय की जनता नफरत फैलाने वाली ताकतों और लोकतंत्र को भीड़तंत्र बनाने की कोशिशों में कामयाब नहीं होने देगी. बीजेपी हमारी एकजुटता को देखकर बौखला गई हैं. उनकी बौखलाहट बता रही है कि हमारे तर्कों के तीर निशाने पर लग रहे हैं. जनसंपर्क कार्यक्रम के दौरान जिन लोगों ने प्रचार अभियान को रोकने की कोशिश की वे लोकतंत्र के मूल्यों के विरोधी हैं.

चुनाव में हर उम्मीदवार को जनता तक अपनी बात पहुंचाने का अधिकार होता है. लेकिन बीजेपी जैसी संविधान विरोधी पार्टी से लोकतंत्र के मूल्यों का सम्मान करने की उम्मीद भी नहीं की जा सकती है.

जो लोग उम्मीदवार और इस अधिकार के बीच दीवार बन रहे हैं. उनके खिलाफ कानून को सख्त कार्रवाई करनी चाहिए. ऐसा करना आचार संहिता का उल्लंघन है. चुनाव आयोग को इस पर संज्ञान लेना चाहिए.ये लगातार तीसरा हमला है. ये प्रशासन लगातार इस तरह की घटनाओं को अनदेखा कर रहा है. कन्हैया ने कहा आश्चर्य इस बात का है कि जब भी ऐसी घटना होती है तो मीडियाकर्मी और पुलिसवाले वहां पहले से मौजूद रहते हैं. ये संयोग है या कुछ और, इसका पता लगाना प्रशासन की जिम्मेदारी है.

हमारे प्रचार अभियान को रोकने की कोशिश करने वाले लोग आम ग्रामीण नहीं ब्लकि बीजेपी के लोग हैं.

बता दें कि बेगूसराय की सीट पर जेएनयू के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार का सीधा मुकाबला केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह और राजद के तनवीर हसन से है. कन्हैया सीपीआई के टिकट पर चुनाव लड़ रहे हैं.
हिन्दुस्थान समाचार/सुरेन्द्र

Trending Tags- Lok sabha election 2019, Bjp, Congress, CPI, Giriraj singh, Kanhaiya kumar, Loksabha election, Election 2019, 2019 lok sabha elections, Lok sabha chunav 2019