Mamata Banerjee
Mamata Banerjee

लोकसभा चुनाव में इस बार पश्चिम बंगाल में जबरदस्त संघर्ष देखा जा रहा है. राज्य में बीजेपी और टीएमसी के बीच मुख्य मुकाबला है. और अभी तक हुए सभी 6 चरणों में हिंसा की घटनाएं सामने आई हैं.

प्रदेश की राजधानी कोलकाता में मंगलवार को बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने एक रोड शो किया. जिसमें भी हिंसा हुई. इस हिंसा के बाद अब बीजेपी और टीएमसी के बीच सियासी संग्राम छिड़ गया है.

बीजेपी ने इसके लिए टीएमसी को जिम्मेदार ठहराया है. वहीं अब सीएम ममता बनर्जी ने बीजेपी को धमकी दी है. ममता बनर्जी ने कहा है कि तुम लोगों का नसीब अच्छा है कि मैं यहां शांत बैठी हूं. वरना तो मैं एक सेकेंड में दिल्ली में बीजेपी दफ्तर और तुम्हारे घरों पर कब्जा कर सकती हूं.

उन्होंने शाह के रोड शो में हुई हिंसा पर तंज कसते हुए कहा कि अमित शाह क्या भगवान हैं, जो उनके खिलाफ कोई प्रदर्शन नहीं कर सकता है?

शाह का पलटवार

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने ममता बनर्जी के बयानों और कल (मंगलवार) हुई हिंसा पर पलटवार करते हुए कहा कि यदि कल उनके साथ CRPF नहीं होती तो वो जिंदा बच कर नहीं निकल पाते. उन्होंने कोलकाता पुलिस पर भी सरकार के दबाव में काम करने का आरोप लगाया.

शाह ने दिल्ली में एक प्रेस कांफ्रेंस करते हुए कहा कि बीजेपी के पोस्टरों को हटाने का कार्यक्रम रखा गया. प्रधानमंत्री के पोस्टर फाड़े गए. और कोलकाता पुलिस मूक दर्शक बनकर देखती रही.

किसने तोड़ी ईश्वर चंद्र विद्यासागर की प्रतिमा

मंगलवार को अमित शाह के रोड शो के दौरान ईश्वरचंद विद्यासागर की मूर्ति भी तोड़ दी गई. ईश्वरचंद विद्यासागर की प्रतिमा तोड़ने को लेकर बीजेपी-टीएमसी दोनों ने ही एक वीडियो शेयर करके एक दूसरे पर आरोप लगाया है.

तृणमूल कांग्रेस नेता डेरेक ओब्रायन ने अपने ट्विटर अकाउंट से तीन वीडियो शेयर करते हुए बीजेपी पर हिंसा भड़काने का आरोप लगाया है. तो वहीं बीजेपी ने भी एक वीडियो शेयर करते हुए TMC समर्थकों द्वारा पार्टी अध्यक्ष अमित शाह के रोड शो में बाधा डालते हुए हिंसा करने का आरोप लगाया है.