रूसी स्पुतनिक वी वैक्सीन विश्वसनीय, सुरक्षित और असरदार है: पुतिन

bab=nks
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

– संयुक्त राष्ट्र कर्मियों को नि:शुल्क वैक्सीन देने की पेशकश

– वैक्सीन डोज़ ज़रूरतमंद देशों में साझा करने का प्रस्ताव

ललित मोहन बंसल
न्यू यॉर्क, 23 सितम्बर (हि.स.). रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन ने संयुक्त राष्ट्र महासभा को संबोधित करते हुए अपनी पीठ थपथपाई है. उन्होंने कहा कि रूस ने दुनिया में सबसे पहले कोरोना संक्रमण के दंश पर नियंत्रण पाने के लिए विश्वसनीय, सुरक्षित और असरदार स्पुतनिक वी वैक्सीन तैयार की है. इसे रूस ज़रूरतमंद सभी देशों के बीच साझा करना चाहता हैं.

उन्होंने कहा कि यह वैक्सीन संयुक्त राष्ट्र कर्मियों को नि:शुल्क वितरित की जाएगी. दुनिया भर में संयुक्त राष्ट्र के क़रीब 50 हज़ार कर्मी हैं. पुतिन ने संयुक्त राष्ट्र की 75वीं वर्षगांठ पर अपने एक वीडियो संदेश में कहा कि रूसी वैज्ञानिकों ने कोरोना संक्रमण की भयावहता को देखते हुए तत्काल क़दम उठाए.

उन्होंने अपने क्लीनिकल और प्रोध्योगिकी अनुभवों के आधार पर वैक्सीन विकसित करने के लिए अपेक्षित क़दम उठाए और सबसे पहले क्लीनिकल परीक्षणों के बाद वैक्सीन की एक शृंखला तैयार कर दी. परीक्षण के दौरान किसी अप्रिय घटना की चर्चा तक नहीं हुई और यह नितांत सुरक्षित और असरदार पाई गई है.

उन्होंने कहा कि वह इस वैक्सीन पर एक आनलाइन अन्तरराष्ट्रीय सम्मेल भी करना चाहते हैं, ताकि इस फ़ील्ड में वैक्सीन तैयार करने वाले देशों के साथ सहयोग कर सकें और विद्वतजनों को सम्मेलन के ज़रिए अपेक्षित जानकारी साझी की जा सके.

हिन्दुस्थान समाचार/बच्चन