पीओके के मुजफ्फराबाद में रैली के दौरान पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच हिंसक झड़प, दो की मौत कई घायल

सीजफायर उल्लंघन कर अपनी खस्ता हालात को छिपाने वाले पाकिस्तान की अब पोल खुल गई है. पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कश्मीर में मानवाधिकारों को लेकर खूब चिंता जताता है जबकि वह अपने क्षेत्र के आजाद कश्मीर के लोगों के बारे में बात नहीं करता है.

पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (पीओके) के मुजफ्फराबाद में मंगलवार को ऑल इंडिपेंडेंट पार्टीज अलायंस (एआईपीए) के बैनर तले कई राजनीतिक दलों ने एक जनसभा का आयोजन किया था. इसी दौरान वहां प्रदर्शन शुरू हो गया, जिसके बाद प्रदर्शनकारियों पर पुलिस ने जमकर लाठियां बरसाईं. इस घटना में दो लोगों की मौत हो गई जबकि कई लोग जख्मी हो गए.

पाक अधिकृत कश्मीर (PoK) जिसे आजाद कश्मीर कहा जाता है, की राजधानी मुजफ्फराबाद में शांतिपूर्वक तरीके से ऑल इंडिपेंडेंस पार्टीज अलायंस (AIPA) की अगुवाई में कई दलों के लोग मंगलवार को प्रो-फ्रीडम रैली कर रहे थे, लेकिन पाकिस्तान राज्य पुलिस ने उनके साथ बर्बरता दिखाई और लाठीचार्ज कर दिया जिससे यहां हिंसक झड़प हो गई.

घटना का जो वीडियो सामने आया है, उसमें स्पष्ट दिख रहा है कि प्रदर्शनकारियों पर पुलिस ने किस कदर कहर बरपाया है. इसके बाद वहां भगदड़ मच गई. पुलिस के लाठीचार्ज में दो लोगों की मौत हो गई और कई लोग घायल हो गए हैं.

प्रदर्शन के दौरान दोनों पक्षों ने एक-दूसरे पर पथराव भी किए. दोनों के बीच यह झड़प उस समय शुरू हुई जब पाक अधिकृत कश्मीर की राजधानी मुजफ्फराबाद में आजाद कश्मीर विधानसभा की इमारत के बाहर प्रदर्शनकारी पहुंच गए और प्रदर्शन करने लगे.

Leave a Comment

%d bloggers like this: