बंगाल में नही थम रही हिंसा, पुलिस और भाजपाईयों के बीच झड़प

बंगाल में जय श्री राम का नारा लगाने पर पुलिस पकड़ लेती है, सीबीआई को पुलिस पकड़ लेती है. ताजा मामला बीजेपी कार्यकर्ताओं की हत्या के विरोध में प्रदर्शन कर रहे भाजपाईयों पर पुलिस ने लाठियां बरसाईं. इस बीच पुलिस और बीजेपी के कार्यकर्ताओं के बीच जमकर झड़प हुई.

दरअसरल भाजपा के शहीद कार्यकर्ताओं के लिए जब बीजेपी के सांसदों और संगठन के नेताओं ने कोलकाता के लाल बाजार स्थित पुलिस मुख्यालय का घेराव किया. इसी में पुलिस और भाजपाईयों के बीच जमकर बहस और झड़प हुई. जिसमें मुकुल रॉय और पार्टी के प्रदेश महासचिव राजू बनर्जी को भी चोटें आई हैं.

ममता सरकार के खिलाफ हुए इस प्रदर्शन में बंगाल भाजपा के सभी 18 सांसद भी मौजूद रहे. वहीं मामले को बढ़ता देख पुलिस ने बल प्रयोग कर आंसू गैस के गोले दागे और पानी की बौछार की.
पुलिस का कहना है कि बीजेपी कार्यकर्ताओं ने पुलिस पर पथराव किया था जिसमें पुलिस वालों को भी चोटें आई हैं. पुलिस के अनुसार बीजेपी कार्यकर्ताओं ने पुलिस पर बोतलें भी फेंकी.

बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि ममला सरकार भाजपा के बढ़ते जनाधार से परेशान है इसलिए ममला दीदी का मानसिक संतुलन बिगड़ रहा है. विजयवर्गीय ने कहा कि ममता अपनी कुर्सी बचाने के लिए हिंसा की राजनीति कर रही हैं. अगर ऐसी ही स्थिति बंगाल में रही तो केन्द्र सरकार को विचार करना पड़ेगा कि बंगाल में क्या किया जाए.

वहीं पुलिस द्वारा की गई हिंसा के विरोध में प्रदेश अध्यक्ष दिलीप और भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव ने धरना प्रदर्शन भी किया. मामले को बढ़ता देख राज्यपाल केसरीनाथ त्रिपाठी ने गुरूवार को बैठक भी बुलाई. इस बैठक में पार्थो चटर्जी TMC, दिलीप घोष BJP, एसके मिश्रा CPI, एसएन मित्रा CONGRESS से बात की गई.

इससे पहले सीएम ममता बनर्जी ने कहा था कि राज्य में फैली हिंसा से मारे गए कार्यकर्ताओं के लिए उनके मन में संवेदना है. यह दुर्भाग्यपूर्ण है. ममता ने आरोप लगाया था कि बीजेपी बंगाल को गुजरात बनाना चाहती है और वो ऐसा नही होने देंगी.


मधुकर बाजपेयी / Madhukar Vajpayee

3 thoughts on “बंगाल में नही थम रही हिंसा, पुलिस और भाजपाईयों के बीच झड़प”

Leave a Reply

%d bloggers like this: