उत्तराखंड में कोरोना से पहली मौत, एम्स में भर्ती महिला ने तोड़ा दम

Coronavirus Dead
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

ऋषिकेश. यहां एम्स में भर्ती कोराना पॉजिटिव महिला मरीज की शुक्रवार को मौत हो गई. उत्तराखंड में कोरोना वायरस से संक्रमित मौत का यह पहला मामला सामने आया है. लालकुआं निवासी महिला को ब्रेन स्ट्रोक आने के बाद ऋषिकेश के एम्स में 22 अप्रैल को भर्ती कराया गया था.

नैनीताल के लालकुआं निवासी महिला को ब्रेन स्ट्रोक आने के बाद ऋषिकेश के एम्स में भर्ती कराया गया था, जहां उनकी तीसरी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी. प्रदेश में कोरोना संक्रमित मरीज की मौत का पहला मामला सामने आने के बाद हड़कंप मच गया है. उत्तराखंड में अब तक 57 लोगों में कोरोना पॉजिटिव मामले सामने आ चुके हैं.

एम्स के न्यूरो वार्ड में भर्ती लालकुआं की महिला को दो मार्च को ब्रेन स्ट्रोक हुआ था. इस पर उसे बृजलाल हॉस्पिटल हल्द्वानी में भर्ती कराया गया. वहां से आठ मार्च को विवेकानंद हॉस्पिटल हल्द्वानी रेफर कर दिया गया. महिला 19 अप्रैल तक इस अस्‍पताल में भर्ती रही, जिसके बाद श्री राम मूर्ति हॉस्पिटल, बरेली रेफर किया गया. बरेली में वह 19 से 21 अप्रैल तक भर्ती रही. 22 अप्रैल सुबह करीब तीन बजे महिला को एम्स ऋषिकेश लाया गया.

उस दिन वह एम्स के इमरजेंसी के रेड एरिया में सुबह 11 बजे तक भर्ती रही. बाद में वार्ड में शिफ्ट कर दिया गया था. महिला के साथ उसके पुत्र और पुत्री आए थे. महिला की मौत के बाद से परिवार में कोहराम मचा है. उत्तराखंड में कोरोना संक्रमण के अब तक कुल 57 मामले सामने आ चुके हैं, जबकि 36 मरीज ठीक होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं. 21 एक्‍टि‍व केस हैं.

हिन्दुस्थान समाचार /विक्रम