उत्तरकाशी आपदा : राहत सामग्री पहुंचा कर वापस आ रहा हेलीकॉप्टर क्रैश, पायलट समेत तीन की मौत

मृतकों में पायलट, को-पायलट और एक स्थानीय व्यक्ति शामिल है

देहरादून. उत्तरकाशी में आपदा प्रभावित क्षेत्रों के लिए राहत सामग्री पहुंचाकर वापस आ रहा एक हेलीकॉप्टर बुधवार को आराकोट के पास क्रैश हो गया. इससे पायलट समेत तीन लोगों की मौत हो गई। दुर्घटनाग्रस्त हेलीकॉप्टर हेरिटेज कंपनी का बताया जा रहा है. मुख्यमंत्री ने सभी मृतकों के परिजनों को 15-15 लाख रुपये की सहायता राशि देने की घोषणा की है.

उत्तरकाशी आपदा प्रभावित क्षेत्रों में राहत सामग्री पहुचांकर वापस आ रहे हेलीकॉप्टर के दुर्घटनाग्रस्त होने से पायलट, को-पायलट व एक स्थानीय व्यक्ति के निधन पर मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने गहरा दुःख व्यक्त किया है.

आराकोट के समीप वायर से बचने के प्रयास में हेलीकॉप्टर पहाड़ से टकरा गया, इस दुर्घटना में कैप्टन लाल, कैप्टन शैलेश एवं ग्राम खरसाली के राजपाल राणा की मृत्यु हो गई. मुख्यमंत्री ने सभी मृतकों के परिजनों को 15-15 लाख रूपये की सहायता राशि देने की घोषणा की है. मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने राज्य आपदा परिचालन केन्द्र में जाकर घटना की जानकारी ली.

बुधवार सुबह भी सहस्त्रधारा हेलीपैड से हेलीकॉप्टर के माध्यम से पीने का पानी, खाद्य सामग्री, चीनी, टॉफी, चॉकलेट, पोहा ,मेडिसिन, गुड़ चना, मैगी, रस्क, बिस्किट ,नमकीन , गूलकोज, दूध आदि भेजा गया था. एयरफोर्स के हेलीकॉप्टर के माध्यम से भी आवश्यक सामग्री जोलीग्रांट से भेजी गई.

आपदा के बाद अब तक 10 घायलों का रेस्क्यू किया गया. इन सभी को दून हॉस्पिटल भेजा गया है. जबकि 15 शव बरामद किए गए हैं। तीन व्यक्तियों की खोजबीन अभी की जा रही है. एसडीआरएफ की टीमें माकुड़ी, टिकोची,आराकोट,चीवा, जाफ़वा, परनाला, गोड़ा,रिकोची , डुचानू, नावबाड़ा आदि स्थानों में रेस्क्यू कार्य कर रही हैं.

उल्लेखनीय है कि उत्तरकाशी के आराकोट क्षेत्र में बीते रविवार की सुबह करीब चार बजे बादल फटने से 15 लोगों की मौत हो गई थी. कई लोग अभी भी लापता बताए जा रहे हैं. प्रभावित क्षेत्र में कई लोग बेघर हो गए हैं और राहत शिविरों में उन्हें रखा गया है. प्रभावित क्षेत्र में लगतार रेस्‍क्‍यू टीमें राहत कार्यों में जुटी हुई हैं.

हिन्दुस्थान समाचार/अमर, रामानुज

Leave a Reply

%d bloggers like this: