धीरे-धीरे आपका फोन आपको बना रहा है मोटापे और डायबिटीज का शिकार, रिपोर्ट में हुआ खुलासा

  • मोबाइल के आने के बाद सबकुछ बदल गया है
  • छोटे से छोटे काम को करने के लिए हम स्मार्टफोन का इस्तेमाल करते हैं. ऐसे में स्मार्टफोन जितना ज्यादा यूजफुल है उतना ही ज्यादा परेशानी देने वाला भी है

नई दिल्ली. आज के टाइम में यह तो हम सभी जानते है कि टेक्‍नोलॉजी ने हमारे जीने के तरीके को पूरी तरह बदलकर रख दिया है. जिसमे सबसे बड़ा योगदान मोबाइल टेक्‍नोलॉजी का रहा है. फिर चाहे वह पढ़ना हो, काम करना हो, एक-दूसरे तक अपनी बात पहुंचाना हो, शॉपिंग हो या किसी के साथ डेटिंग ही क्‍यों न हो, मोबाइल के आने के बाद सबकुछ बदल गया है. छोटे से छोटे काम को करने के लिए हम स्मार्टफोन का इस्तेमाल करते हैं. ऐसे में स्मार्टफोन जितना ज्यादा यूजफुल है उतना ही ज्यादा परेशानी देने वाला भी है.

फोन से हो रहा नुकसान

ये तो हम सभी जानते हैं कि फ़ोन चलाना काफी खतरनाक साबित हो सकता है. लेकिन हम सभी ये नहीं जानते हैं कि स्मार्टफोन का इस्तेमाल किस हद तक नुकसान पहुंचा सकता है. मोबाइल या टैब के ज्यादा इस्तेमाल से आंखो पर बुरा असर होता है और इससे दुनियाभर के लोग परेशान हैं.लेकिन आपको यह जानकर हैरानी होगी कि रात में फोन और टैब का यूज करने से मोटापा बढ़ सकता है.इतना ही नहीं रात में फोन के इस्तेमाल से मधुमेह यानी की डायबिटीज हो सकती है.

रिपोर्ट में हुआ खुलासा-

दरअसल हाल ही में आई एक रिपोर्ट के अनुसार रात में फोन को इस्तेमाल करने से कई तरह की बिमारियां हो सकती हैं. पिछले हफ्ते नीदरलैंड में स्ट्रॉसबर्ग यूनिवर्सिती रूप से अपनी अध्ययन रिपोर्ट में यह दावा किया है कि रात को फोन यूज करने से डायबिटीज हो सकती है.
इस रिपोर्ट को नीडरलैंड में सोसायटी फॉरद स्टडी ऑफ एजेस्टिव बिहेवियर के सालाना सम्मेलन में पेश किया गया है.इसके रिपोर्ट में कहा गया है कि रात में सिर्फ एक घंटा ही फोन या टैब का इस्तेमाल करने से इसकी रोशनी से आपकी सेहत पर बहुत बुरा असर पड़ता है.

Woman poking man in stomach, mid section

रिसर्च में सामने आई ये बात-

रिपोर्ट के मुताबिक फोन से निकालने वाली रोशनी मोटापे औ मधुमेह को बड़ाने के साथ भूख को मार देती है.इस बात का खुलासा अन्यानसी मससी ने किया है. अन्यानसी मसीस वर्गस इस रिसर्च का नेतृत्न कर रहे है.

उनका कहना है कि यह प्रयोग अभी चूहों पर किया गया है.उन्होंने कहा कि सबसे पहले हमने चूहों को दिनभर जादते रहने दिया और रात को सोने दिया दैसा कि हर इंसान की आदत होती है.

वर्गश ने कही ये बात-

वो आगे कहते है कि इसके बाद हमने चूहों को फोन या टैब से निकलने वाली नीली पोशनी में रात को सोने दिया .वर्गश का कहना है कि इन चूहों पर करीब से नजर रखकर उनके व्यवहार का आकलन करने के बाद हमने कई बदलाव देखे.जो की बेहद ही चौकाने वाले थे.

Close up of friends with circle of smart phones

ऐसा रहा चूहों का रिएक्शन –

चूहों के साथ ऐसा करने के बाद शोधकर्ताओं ने अगले दिन चूहों को चार तरह के खाने दिए. शोधकर्ताओं ने इन चूहों पौष्टिकता से भरपूर खाना, चर्बी, चीनी का शरबत और पानी जैसे सामान दिए. रिपोर्ट के मुताबिक जो चूहे रातभर नीली रोशनी में सोए थे वो अगले दिन चीनी के शरबत पर टूट पड़े.

इतना ही नहीं इन चूहों का झुकाव सेहत को नुकसान पहुंचाने वाले खाने पर था.इसके बाद शोधकर्ताओं ने पाया कि रात को फोन की रोशनी में रहने के कारण लोगों की भूख मरना शुरू हो जाती है.जो कि उन्हें कई बिमारियों का मरीज बना देती हैं.

Trending Tags: Aaj Ka Taja Khabar | Mobile Addiction | Mobile Disadvantages | Aaj Ka Samachar

1 thought on “धीरे-धीरे आपका फोन आपको बना रहा है मोटापे और डायबिटीज का शिकार, रिपोर्ट में हुआ खुलासा”

Leave a Reply