उप्र की कानून-व्यवस्था में अब होगा और तेजी से सुधार: राम नाईक

  • उन्होंने कहा कि इससे पुलिस अधिकारियों को सुचारु ढंग से कानून-व्यवस्था बनाये रखने में बल मिलेगा, जिससे आम आदमी को बेहतर पुलिसिंग मिलेगी
  • राज्यपाल रहते हुए नाईक ने 27 दिसंबर 2018 को पुलिस परेड में बतौर मुख्य अतिथि पुलिस की सराहना की थी

लखनऊ, 14 जनवरी (हि.स.) उत्तर प्रदेश के पूर्व राज्यपाल राम नाईक ने राज्य के दो शहरों में पुलिस कमिश्नर प्रणाली लागू होने के बाद प्रसन्नता व्यक्त करते हुए फैसले का स्वागत किया है. उन्होंने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से दूरभाष पर बात कर कहा कि इस निर्णय से उप्र की कानून-व्यवस्था में और भी तेजी से सुधार होगा.

उन्होंने कहा कि इससे पुलिस अधिकारियों को सुचारु ढंग से कानून-व्यवस्था बनाये रखने में बल मिलेगा, जिससे आम आदमी को बेहतर पुलिसिंग मिलेगी. उन्होंनें कहा कि योगी आदित्यनाथ ने इस ऐतिहासिक निर्णय से प्रदेश को कानून व्यवस्था के मामले में पूरे देश के समकक्ष बनाया है.

गौरतलब है कि आईपीएस संवर्ग के अधिकारी उत्तर प्रदेश में पुलिस कमिश्नर प्रणाली को लागू कराने की जो जंग करीब 50 सालों से लड़ते चले आ रहे थे, उसकी हिमायत राम नाईक ने भी की थी.

राज्यपाल रहते हुए नाईक ने 27 दिसंबर 2018 को पुलिस परेड में बतौर मुख्य अतिथि पुलिस की सराहना की थी. साथ ही 20 लाख से अधिक आबादी के महानगरों में कमिश्नर प्रणाली लाने का सुझाव दिया था.

देश में लगभग 70 शहरों में तब यह प्रणाली लागू थी. उन्होंने प्रदेश में इस प्रणाली को पायलेट प्रोजेक्ट के रूप में शुरू किए जाने की बात बड़ी प्रमुखता से रखी थी.

हिन्दुस्थान समाचार/दीपक/सुनीत

Also Read: Uttar Pradesh News | UP News in Hindi | Aaj Ki Taja Khabar

Leave a Reply

%d bloggers like this: