हाथरस कांडः यूपी जलाने की साजिश में जुटे PFI के मास्टरमाइंड समेत 4 गिरफ्तार

PFI Members Arrested
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

मथुरा, यूपी।

यूपी के हाथरस कांड में अब एक नया एंगल सामने आया है. और वो है यूपी को जलाने की साजिश. इस गैंगरेप कांड के बहाने कुछ लोग यूपी में जातीय हिंसा फैलाने की साजिश रच रहे थे. और इसके लिए सोशल मीडिया का सहारा लिया जा रहा था. पुलिस ने सोशल मीडिया पर इससे जुड़ी वेबसाइट को बंद करा दिया है.

यूपी में दंगे भड़काने की साजिश का पता लगते ही पुलिस हरकत में आ गई. उसने सोशल मीडिया पर नजर रखनी शुरू कर दी. और उन तमाम वेबसाइटों को बंद कराया जिसमें आपत्तिजनक सामग्री पोस्ट की जा रही थी. इसके अलावा इन पोस्ट से जुड़े लोगों की भी तलाश की जा रही है.

PFI का मास्टरमाइंड गिरफ्तार

इसी बीच मथुरा की मांट पुलिस ने बीती रात यमुना एक्सप्रेस-वे के मांट टोल पर दिल्ली से हाथरस जा रहे कार सवार 4 संदिग्ध लोगों को पकड़ा है. ये आरोपित पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) एवं उसके सह संगठन कैम्पस फ्रंट ऑफ इंडिया (CFI) से जुड़े है.

पूरे प्रदेश को जलाने की साजिश रचने वाले पीएफआई के मास्टर माइंड बताए जा रहे हैं. पुलिस की मानें तो मास्टमाइंड अतीकुर्रहमान पत्रकार बनकर हाथरस की आग देश में भड़काने में लगा था. यह केरल का पीएफआई एजेंट है. सूत्रों की मानें तो फंड रेजिंग की कमान भी इसी के पास थी.

दिल्ली हिंसा की तर्ज पर यूपी जलाने की साजिश

सूत्रों ने बताया कि अतिकुर्रहमान उर्फ अतीक पुत्र रौनक अली निवासी ग्राम रियावली नगला पूर्वी-4, थानाक्षेत्र रतनपुरी, जनपद-मु.नगर का निवासी है. यह वर्तमान में कैम्पस फ्रण्ट आफ इण्डिया की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में कोषाध्यक्ष है. अ​तिकुर्रहमान विगत 3-4 से दिनों से दिल्ली में शाहीन बाग में रह रहा है.

इनके पास से आपत्तिजनक वेबसाइट से जुड़े होने के भी पुख्ता सबूत पुलिस को मिले हैं. तमाम भड़काऊ और आपत्तिजनक कंटेंट भी बरामद किए हैं. पुलिस ने इनके खिलाफ संयुक्त पूछताछ के बाद विधिक कार्रवाई कर रही है.

अलर्ट है यूपी की पुलिस

मंगलवार सुबह एडीजी कानून-व्यवस्था प्रशांत कुमार ने बताया कि ऐसी सूचना प्राप्त हुई थी कि कुछ संदिग्ध व्यक्ति दिल्ली से हाथरस की तरफ जा रहे हैं, जिसका संज्ञान लेते हुए मांट थाना पुलिस एवं एसओजी टीम अन्य टीम यमुना एक्सप्रेस-वे के मांट टोल प्लाजा पर चैकिंग करने लगी.

सोमवार की देर रात करीब साढ़े 11 बजे दिल्ली की ओर से आती स्विफ्ट डिजायर कार (डीएल 01 जेडसी 1203) को रोका गया. जिसमें सवार अतीकुर्रहमान के साथ सिद्दीकी पुत्र मोहम्मद चैरूर निवासी बेंगारा थाना मल्लपुरम केरल, मसूद अहमद निवासी कस्बा व थाना जरवल जिला बहराइच तथा आलम पुत्र लईक पहलवान निवासी घेर फतेह खान थाना कोतवाली जिला रामपुर पकड़ लिया.

ये चारों ही पीएफआई एवं सीएफआई के मास्टर मांइड शातिर सदस्य है. चारों के कब्जे से मोबाइल, लैपटॉप एवं शांति व्यवस्था पर प्रतिकूल प्रभाव डालने वाला संदिग्ध साहित्य प्राप्त हुआ. ये लोग हाथरस के बहाने उत्तर प्रदेश को जलाने की साज़िश में शामिल है.

आपत्तिजनक वेबसाइट से जुड़े होने के भी सुराग मिले हैं, तमाम भड़काऊ और आपत्तिजनक कंटेंट भी बरामद किए हैं. इनके खिलाफ निरोधात्मक कार्यवाही की गई है, संयुक्त पूछताछ के उपरांत अग्रिम विधिक कार्यवाही की जाएगी.

हिन्दुस्थान समाचार/महेश