छत्तीसगढ़ : केंद्रीय मंत्री रेणुका सिंह ने किया काका लरंगसाय सिंह के गांव का न‍िरीक्षण

  • ग्रामीणों से सुविधाओं व संसाधनों की ली जानकारी

बलरामपुर, 04 नवंबर (हि.स.). केन्द्रीय राज्य मंत्री व स्थानीय सासंद रेणुका सिंह रविवार देर शाम को बलरामपुर जिले के अंतर्गत आने वाले शंकरगढ़ विकासखण्ड के ग्राम पंचायत जसवंतपुर का आकस्मिक दौरा किया. उसके बाद सांसद आदर्श ग्राम के रूप में चयनित करने के बाद केंद्रीय राज्यमंत्री रेणुका सिंह पहली बार आदिवासी नेता पूर्व केंद्रीय श्रम राज्य मंत्री लरंगसाय सिंह के गृह ग्राम जसवंतपुर (चिरई) पहुंची.

यहां उन्होंने ग्रामीणों को आश्वस्त किया कि जसवंतपुर को सुविधाओं के मामले में इतना विकसित किया जाएगा कि यहां का हर एक शख्स गर्व से कहेगा कि मैं जसवंतपुर का रहने वाला हूं. केंद्रीय राज्यमंत्री रेणुका सिंह ने ग्रामीणों के साथ लंबा वक्त बीताया और वहां की वर्तमान परिस्थिति, उपलब्ध सुविधाओं, संसाधनों की जानकारी ली. केंद्रीय राज्यमंत्री को अपने बीच पाकर ग्रामीण भी काफी उत्साहित नजर आए.

इस दौरान सासंद रेणुका सिंह ने केंद्र में मंत्री रह चुके काका लरंग साय के नाम का स्वागत गेट निर्माण के लिए 10 लाख रुपये की घोषणा भी की. उन्होंने आगे कहा कि काका लरंग साय एक ऐसा नाम हैं जिससे भाजपा पार्टी की पहचान सामरी विधानसभा से सरगुजा संभाग में स्थापित हुई.

इस दौरान ग्रामीणों ने कहा कि क्षेत्र में काका लरंगसाय के नाम पर भाजपा के हर विधायक प्रत्याशी व अन्य प्रत्याशी ने संयुक्त सरगुजा के सभी 14 विधानसभा में चुनाव लड़कर अपनी राजनीतिक जमीन स्थापित किया. इसके बदौलत पहली बार 2003 के विधानसभा चुनाव में भाजपा ने राज्य सरकार कि सत्ता तक का सफर पूरा करने में अहम भूमिका निभाई थी.

लेकिन अपनी सादगी और सच्चाई के लिए काका के नाम से मशहूर लरंगसाय का स्वर्गवास के बाद भी कई नेता चुनाव लड़ कर फर्श से अर्श पर पहुंच गये पर उनके गृह ग्राम को किसी ने भी न तो याद किया और न ही सर्वाधिक विकास की पहल की. लेकिन अपनी घोषणा अनुसार रविवार को केन्द्रीय मंत्री ने गोद लेने के लिए पहुंचने के बाद फिर से जहां विकास की उम्मीद ग्रामीणों में जगी है, तो दूसरी तरफ बलरामपुर जिले में भाजपा संगठन को भी फिर से सक्रिय रूप में लाने में भी इस पहल को अहम बताया.

घोषणा को पूरा किया सांसद रेणुका ने, जसवंतपुर बना सांसद आदर्श ग्राम
केंद्रीय मंत्री रेणुका सिंह ने दौरे के दौरान ग्राम पंचायत जसवंतपुर (चिरई) को सांसद आदर्श ग्राम बनाने का निर्णय लिया. जिससे ग्रामवासियों में हर्ष व्याप्त हैं, तो वहीं अब तक के सरगुजा सासंद रह चुके सभी को प्रेरणा भी हैं.

रेणुका ने कुछ दिनों पहले घोषणा किया था कि जसवंतपुर गांव जो कि भूतपूर्व केंद्रीय मंत्री तथा राजनीति के दिग्गज नेता काका लरंग साय का गांव है, जहां उनका बचपन बिता है. उसे आदर्श ग्राम के रूप में तब्दील करेंगी और रविवार को उन्होंने किये गये घोषणा पर खरा उतर कर जसवंतपुर को सांसद आदर्श ग्राम बना दिया.

काका के परिजनों से मुलाकात कर घर पर किया भोजन
राजनीतिक सफर में सांसद बनने के बाद पहली बार रेणुका सिंह ने जसवंतपुर गांव का दौरा किया, इससे पहले कोई भी सांसद काका के परिजनों से मिलने इस तरह नहीं पहुंचे. ग्रामीणों व काका लरंग साय के परिजनों से मुलाकात के बाद सांसद रेणुका ने काका के घर पर ही बैठकर भोजन किया.

काका लरंगसाय की यादें हुई ताजा
लरंग साय के परिजनों ने सरगुजा सांसद रेणुका के इस दौरे को लेकर कहा कि क्षेत्र के विकास के लिए काका लरंगसाय ने पुरजोर मेहनत की थी. भले ही वह आज हमारे बीच नहीं है लेकिन केंद्रीय मंत्री रेणुका सिंह के इस निर्णय से इस फैसले से उनकी यादें ताजा हो गई हैं.

आगे कहा कि हमारा सौभाग्य है कि हमारी सुध लेने वाला कोई है. परिजनों ने रेणुका सिंह के लौटने के दौरान कद्दू भेंट करते हुए दशकों पुरानी परंपरा को बरकरार रखते हुए, उसकी एहसास वर्तमान पीढ़ी के सदस्यों को देते हुए सामने उभरते हुए आई.

हिन्दुस्थान समाचार / विक्की तिवारी / गेवेन्द्र

Leave a Comment