टिकटॉक को खरीदने की रेस में शामिल हुआ Twitter

twitter
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

नई दिल्ली. Tiktok एप की खरीदारी ने अब रफ्तार पकड़ना शुरू कर दिया है. टिकटॉक को खरीदने की रेस में अब Microsoft  के बाद Twitter भी शामिल हो गई है. Twitter ने इस सिलसिले में टिकटॉक से बातचीत करनी शुरू कर दी है. दरअसल अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने राष्ट्रीय सुरक्षा के चलते एक कार्यकारी अध्यादेश पारित करके Tiktok को 45 दिनों में अमेरिका से अपना करोबार समेटने का निर्देश दे दिया है.

अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने यह भी कहा है कि अगर टिकटॉक को अमेरिका में टिकटना है तो वो 45 दिन के अंदर अपने यूएस बिजनेस को किसी अमेरिकी कंपनी को बेच दें या आधी से ज्यादा हिस्सेदारी को बेच दें. अगर 45 दिन में ऐसा नहीं हुआ तो 45 दिन बाद टिकटॉक को बैन कर दिया जायेगा.

मार्केट एक्सपर्ट का कहना है कि भले ही Twitter इस रेस में शामिल हो रहा है. लेकिन Twitter के लिए टिकटॉक को खरीदना आसान नहीं होने वाला है. क्योंकि Twitter की फाइनेंशियल कंडीशन Microsoft के मुकाबले में अनफिट है. Twitter का मार्केट कैपिटलाइजेशन Microsoft के मुकाबले काफी कम है.

Twitter का मार्केट कैपिटलाइजेशन करीब 30 बिलियन डॉलर यानी की 3000 करोड़ डॉलर है. जो कि टिकटॉक के करीब विनिवेश किए जाने वाली संपत्ति के बराबर ही है. ऐसे में Twitter को इस डील के लिए अतिरिक्त कैपिटल जुटाना पड़ेगा. तभी वो इस डील को कर पायेगा.