कोरोना के बीच अमेरिका पर मंडराया एक और खतरा, भारी तबाही के संकेत

hanna
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

अमेरिका के दक्षिण पश्चिम टेक्सास में एक तरफ कोरोना की मार वो वहीं दूसरी ओर हाना हरिकेन के संकट ने समुद्र तट के क़रीब रहने वाले हज़ारों लोगों की नींद उड़ा दी है. मौसम वैज्ञानिकों की मानें तो रविवार दोपहर बाद से 110 मील प्रति घंटे की रफ़्तार से तेज़ हवाएं और मूसलाधार बारिश जनजीवन को अस्त व्यस्त कर सकती है.

हाना हरिकेन शनिवार की दोपहर टेक्सास के दक्षिण में अमेरिका-मेक्सिको बार्डर के 60 मील उत्तर में पैडरे द्वीप तक पहुंच गया है. हाना हरिकेन से समुद्री हवाओं की गति 90 मील प्रति घंटा बताई जा रही है, जो रविवार को तेज़ मूसलाधार बरसात के सात बढ़कर 110 मील प्रति घंटे तक पहुंच गई. इन तेज़ हवाओं से घरों की छतें उड़ सकती हैं, पेड़ उखड़ सकते हैं और बड़े स्तर पर बिजली आपूर्ति में परेशानी आ सकती है.

फिलहाल प्रशासन ने पूरी तैयारियां कर ली हैं और लोगों से समुद्री तट से दूर घरों में रहने को कहा गया है. कोरपस क्रिस्ती के मेयर जोई मेकोंब ने शनिवार को लोगों से सुरक्षित स्थानों पर जाने का आग्रह किया है.

नेशनल मौसम विभाग के वैज्ञानिकों ने आशंकाएँ जताई हैं कि हाना हरिकेन नब्बे मील प्रति घंटे से अग्रसर है. इस से इलाक़े में छह से बारह इंच बरसात हो सकती है. इस हरिकेन की विदाई से पहले अनुमान है कि यह रविवार की रात्रि तक 18 इंच बरसात और बाढ़ की स्थिति उत्पन्न कर सकता है.

बता दें कि टेक्सास में फिलहाल 3,62,000 लोग कोरोना से संक्रमित हैं. वहां की अस्पताल सेवाएं अस्त व्यस्त होती जा रही है.