Crime: केंद्र सरकार के फैसले के बाद भी तीन तलाक जारी

muslim women
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

जोधपुर . केंद्र सरकार ने भले ही तीन तलाक को अमान्य करार दिया हो, मगर लोग अब भी इसे मानने को तैयार नहीं है.ऐसा ही एक मामला अब कमिश्ररेट के लूणी क्षेत्र में आया है.

पीहर में बैठी महिला को उसके पति ने घर आकर तीन बार तलाक बोला और छोड़ दिया. पीडि़ता ने कोर्ट की शरण ली और इस्तगासे के जरिए लूणी थाने में केस दर्ज करवाया.गुरुवार रात पुलिस ने इस बारे में मुकदमा दर्ज किया और तफ्तीश आरंभ की.

लूणी थानाधिकारी सीताराम ने बताया कि लूणी की रहने वाली एक महिला ने यह रिपोर्ट दी. इसमें बताया कि उसकी शादी नौ साल पहले शिकारपुरा निवासी असगर खां पुत्र फूले खां के साथ हुई थी.

अब उसकी सात साल की बेटी है. गत दिनों वो अपने पीहर में थी, तब 29 जून को उसका पति असगर खां घर आया और तीन बार तलाक बोल कर चला गया और उसे छोड़ दिया.

महिला का आरोप है कि उसकी जेठानी की पुत्री से असगर ने अब निकाह कर लिया है साथ ही उसे घर में भी रख लिया है. थानाधिकारी ने बताया कि कोर्ट से मिले इस्तगासे पर अब इस बारे में मुकदमा दर्ज कर जांच की जा रही है. ये जांच एसआई शिवसिंह की तरफ से की जा रही है.

हिन्दुस्थान समाचार/सतीश