गलती से भी न जाएं पहाडी़ इलाकों में, हो सकती है परेशानी…

गर्मियों की छुट्टियां चल रही हैं. इन दिनों अकसर दिल्ली की गर्मी से परेशान होकर परिवार से साथ छुट्टियां मनाने के लिए पहाड़ी इलाकों की ओर रूख कर लेते हैं.

अगर आप भी इस समय ऐसा कोई प्लान बना रहे हैं तो सचेत हो जाइए. ऐसा कोई प्लान बनाने से पहले जरूर सोच लें. क्योंकि इन दिनों पहाड़ी इलाकों में जाम की स्थिति बनी हुई है.

उत्तराखंड की चार धाम यात्रा के कारण चमोली बद्रीनाथ हाईवे पर लंबा जाम लग गया. इससे कार, गाडियां सब वाहन घंटों तक जाम में फंसे रहे. वहीं पहाड़ जैसे संकरे रास्ते पर जाम खुलवाने के लिए प्रशासन के भी पसीने छूटते नजर आए.

इस जाम के कारण चारधाम के यात्रियों को काफी परेशानी उठानी पड़ी. लोगों ने जाम खुलने के इंतजार में रात भर गाड़ियों में बैठकर गुजारी.

वैसे ये हाल सिर्फ चार धाम यात्रा का ही नहीं है बल्कि ऋषिकेश, देहरादून, रानीखेत, नैनीताल जैसी सभी जगहों का है. इन हिल स्टेशंस पर भीड़ का दबाव इस कदर बढ़ गया है कि यहां लोगों को जाम में फंसना पड़ रहा है.

वहीं गाडियों की लंबी कतारों के बीच ही लोग गर्मी से बेहाल होते दिखे. साथ ही उन्हें भूख प्यास से भी बेहाल होना पड़ा. वहीं प्रशासन भी लोगों को जाम की समस्या से निजात दिलाने की कोशिश करता रहा.

प्रशासन लोगों जाम से निकालने में व्यस्त रहा जबकि सैलानी गर्मी से त्रस्त नजर आए. मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो जाम से यात्रियों का काफी समय भी बर्बाद हो रहा है. लोगों को दो दिन की यात्रा में तीन से चार दिन तक सिर्फ जाम से निकलने में लग रहा है.

वहीं अगर आप इन दिनों किसी तरह की यात्रा का प्लान बना रहे हैं तो ध्यान रखें. नैनीताल जाने वाले रूट पर ट्रैफिक पुलिस को भी ट्रैफिक कंट्रोल करने के लिए भारी मशक्कत करनी पड़ रही है.

वहीं अगर आपका भी इस दौरान कहीं घूमने का मन है तो कोशिश करें की दिल्ली-एनसीआर के आसपास ही किसी जगह घूम आएं.

Leave a Reply

%d bloggers like this: