Exit Poll
Exit Poll
  • नेताओं के भविष्य के फैसला तो 23 मई को होगा लेकिन उनकी धड़कने 19 मई से ही बढ़ जाएंगी
  • जनता से लेकर राजनीतिक दलों के नेता तक जानना चाहते हैं कि आखिर सेहरा किसके माथे पर सजेगा?

लोकसभा चुनाव 2019 के लिए आज अंतिम और सातवें चरण में 59 सीटों पर वोटिंग हो रही है. अंतिम चरण की वोटिंग खत्म होते ही एक्जिट पोल आने शुरू हो जाएंगे. HS.News पर शाम को एग्जिट पोल की कवरेज शुरू होगी, जिसमें सभी राज्यों की लोकसभा सीटों पर पूरे विशलेषण के साथ अनुमानित नतीजे बताए जाएंगे.

17वीं लोकसभा के चुनाव अपने अंतिम चरण की ओर है. 19 मई को आखिरी चरण की वोटिंग तो होगी तो 23 मई को नतीजे घोषित किए जाएंगे. लेकिन इसी बीच सबकी निगाहें लगी हुई हैं 19 मई की शाम को आने वाले Exit Polls पर.

नेताओं के भविष्य के फैसला तो 23 मई को होगा लेकिन उनकी धड़कने 19 मई से ही बढ़ जाएंगी, जब Exit Polls आएंगे. पहले कयास लगाए जाने लगे हैं कि कौन जितेगा? किस पार्टी की कितनी सीटें आएंगी?

जनता से लेकर राजनीतिक दलों के नेता तक जानना चाहते हैं कि आखिर सेहरा किसके माथे पर सजेगा? मतगणना से पहले तो वास्तविक परिणाम बताए नहीं जा सकते, लेकिन लोगों की जिज्ञासा को कैसे शांत किया जाए, इसके लिए रास्ता निकाला गया और वह है एग्जिट पोल का रास्ता. 19 मई को शाम 6 बजे के बाद से ही टीवी चैनलों पर एग्जिट पोल आने लगेंगे.

क्या होते हैं Exit Polls

एग्जिट पोल हमेशा मतदान के आखिरी दिन ही होता है. जिस दिन वोटिंग होती है, उस दिन डाटा इकट्ठा किया जाता है. आखिरी फेस के वोटिंग के दिन जब मतदाता वोट डालकर निकल रहा होता है, तब उससे पूछा जाता है कि उसने किसे वोट दिया.

चुनाव के दौरान अमूमन सभी न्यूज चैनल्स और न्यूज पेपर्स के अलावा अलग-अलग एजेंसियां सर्वे करती हैं. जिससे वो ये पता लगाने की कोशिश करती हैं कि जनता का झुकाव किस पार्टी या नेता की ओर है.

वोटर्स से बातचीत, राजनीतिक दलों, कैंडिडेट्स की जीत-हार का एक अनुमान निकाल कर उसका आकलन किया जाता है. और इस पूरी प्रक्रिया को चुनावी सर्वे कहा जाता है. ये सर्वे अलग-अलग तरह के होते हैं और इनका आधार भी अलग-अलग हो सकता है. सर्वे से जो व्यापक नतीजे निकाले जाते हैं. इसे ही एग्जिट पोल कहते हैं.

19 मई को HS News भी जारी करेगा अपना Exit Poll

HS News ने 2019 के चुनाव के दौरान देश के कई राज्यों का सर्वे किया. हमने अपने स्पेशल प्रोग्राम ‘दिल्ली चलो‘ (Dilli Chalo) में जनता के मुद्दे जानने की कोशिश की. और ये भी कोशिश की इस बार जनता किसे दिल्ली की गद्दी पर बिठाएगी. अपने इस स्पेशल प्रोग्राम के आधार पर ही हम भी इस बार अपना एग्जिट पोल जारी करेंगे. HS News के Exit Poll को आप HS News के Youtube चैनल पर लाइव देख सकते हैं. इस कार्यक्रम में संपादक विजय त्रिवेदी के साथ कई वरिष्ठ पत्रकार शामिल होंगे.

पहली बार एग्जिट पोल किसने शुरू किया?

एग्जिट पोल शुरू करने का श्रेय नीदरलैंड के एक समाजशास्त्री और पूर्व राजनेता मार्सेल वॉन डैम को जाता है. उन्होंने 15 फरवरी, 1967 को पहली इसका इस्तेमाल किया था.

नीदरलैंड में हुए चुनाव में उनका आकलन सटीक बैठा था. जबकि भारत में इसकी शुरुआत का श्रेय इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ पब्लिक ओपिनियन के मुखिया एरिक डी कोस्टा को जाता है.

Trending Tags: EVM | Exit pol | Dilli chalo | Election 2019 | Lok Sabha Election