TikTok बैन से खुला बाजार, भारत को हुआ फायदा

नई दिल्ली. एक तरफ जहां एंटरटेनमेंट एप्स के बैन होने से चीन को नुकसान हो रहा हैं. वहीं दूसरी तरऱफ भारत को इसका बड़ा फायदा होता नजर आ रहा है. एक साथ 59 चाइनीज ऐप्स बैन किए जाने के बाद बड़ा मार्केट खाली हुआ है और इसका फायदा भारतीय ऐप्स और फर्म्स को मिल रहा है.

चीनी एप्स के बैन होने से लोग अब नए एप्स की तलाश में हैं. जिसमें ज्यादातर लोग भारतीय एप्स की तलाश कर रहे हैं. अब लोग दूसरे देश के एप्स को यूज करने की जगह भारत के एप्स को यूज करना चाह रहे हैं. ऐसे में भारत की कंपनियां इस दौरान नए मौके तलाश रही हैं और यूजर्स की ओर से भी अच्छी प्रतिक्रिया उन्हें मिल रही है.

टिकटॉक जैसे फीचर्स वाले रोपोसो ऐप को केवल 48 घंटे में 2.2. करोड़ नए यूजर्स से डाउनलोड किया है. इसके डाउनलोड लगातार ही बढ़ रहे हैं. कंपनी के फाउंडर मयंक भानगढ़िया ने इसकी जानकारी दी.

भानगढ़िया ने बताया, पिछले कुछ दिनों में मैं केवल पांच घंटे ही सोया हूं और मेरी पूरी टीम भी इसी तरह काम कर रही है. हमारे ऊपर इतना लोड है क्योंकि हम यूजर्स को स्मूद एक्सपीरियंस देना चाहते हैं. गूगल प्ले स्टोर पर ऐप 2014 से मौजूद है और इसे 8 करोड़ से ज्यादा बार इंस्टॉल किया गया है. बैन से पहले ऐप के 5 करोड़ डाउनलोड्स थे, जो अगले कुछ दिन में ही डबल होने वाले हैं.

भारत में बने टिकटॉक जैसे फीचर्स ऑफर करने वाले मित्रों और चिंगारी ऐप्स भी टॉप ट्रेंडिंग चार्ट्स में हैं और नए रेकॉर्ड्स बना रहे हैं. बाजार खुलने से जियो और जी5 जैसे कंपनियां भी इसमें अपना हाथ आजमा रही हैं. वो लगातार टिकटॉक को रिप्लेस करने में लगी हुई हैं. चीनी एप्स बैन होने से भारतीय एप्स की मांग बढ़ी हैं.

आपको बता दें कि सोशल मीडिया ऐप टिकटॉक पर मालिकाना हक रखने वाली चीन की बाइटडांस लिमिटेड को भारत में उसके तीन ऐप पर रोक लगाये जाने से 6 अरब डॉलर से अधिक का नुकसान होने का अनुमान है. कंपनी की दो अन्य ऐप वीगो वीडियो और हेलो हैं. जिनके जाने से हर दिन कंपनी को करोड़ों का नुकसान हो रहा है.

Leave a Reply

%d bloggers like this: