1 जुलाई से बदल जाएंगे ये नियम, आपके लिए जानना है बेहद जरूरी

नई दिल्ली. जून का महीना जा चूका है. इसी के साथ नए महीने जुलाई की शुरूआत हो गई है. इस महीने की शुरूआत के साथ ही कई नियम भी बदल गए हैं. आम आदमी को कई चीजों में राहत मिली है, तो वहीं अब भी कई चीजें ऐसी हैं, जिससे आम आदमी की जेब पर बुरा असर पड़ने वाला है. तो चलिए जानते हैं आखिर किन नियमों में हुआ बदलाव..

 सबसे पहला झटका आम आदमी को गैस सिलेंडरों की कीमतों को लेकर लगा है. देश की ऑयल मार्केटिंग कंपनियों  ने गैर-सब्सिडाइज्‍ड एलपीजी सिलेंडर को 1 रुपये प्रति सिलेंडर तक महंगा कर दिया है. अभी तक यह सिलेंडर दिल्ली में 593 रुपये का मिल रहा था, जो अब 594 रुपये में मिलेगा.

कोरोनावायरस संक्रमण फैलने के बाद जब मार्च में लॉकडाउन लागू हुआ था, तो फाइनेंस मिनिस्टर निर्मला सीतारमण ने ऐलान किया था कि अगले तीन महीने तक किसी भी बैंक के ATM से पैसा निकालने पर कोई चार्ज नहीं लगेगा. ये तीन महीने का वक्त 30 जून को खत्म हो गया और आज से पुराना नियम लागू हो गया. 1 जुलाई से पहले की तरफ एक सीमा से ज्यादा बार अगर आप दूसरे बैंक के ATM से पैसा निकालते हैं तो आपसे चार्ज लिया जाएगा.

लगातार बढ़ रही पेट्रोल और डीजल की कीमतों से आज आम आदमी को राहत मिली है. आज तेल कंपनियों ने पेट्रोल और डीजल की कीमतों में कोई बदलाव नहीं किया है. आज दिल्ली में एक लीटर पेट्रोल कल वाली ही कीमत 80.43 रुपए में बिक रहा है. तो वहीं एल लीटर डीजल की कीमत 8053 रुपए हैं.

लॉकडाउन शुरू होने के बाद फाइनेंस मिनिस्टर निर्मला सीतारमण ने खातों में मिनिमम बैलेंस ना रखने की छूट दी थी. लेकिन 1 जुलाई से अब यह छूट खत्म हो गई है. अब खातों में मिनिमम बैलेंस ना रखने पर पेनाल्टी लग सकती है.

कोरोना संकट में कैश की किल्लत दूर करने के लिए सरकार ने एक नियम में बदलाव किया था. इस बदलाव के तहत कोई भी उपभोक्ता अपने ईपीएफ खाते के 75 फीसदी राशि या 3 महीने की बेसिक सैलरी बेसिक+डीए में से जो कम हो उतनी राशि निकाल सकता है. यह छूट अब 1 जुलाई से खत्म हो चुकी है.

 अगर आपका बैंक अकाउंट पंजाब नेशनल बैंक यानी की पीएनबी में है तो आपको एक जोरदार झटका लगाने जा रहा है. दरअसल आज से पीएनबी ने बचत खाते पर मिलने वाले ब्याज में 0.50 फीसदी की कटौती की है. 1 जुलाई से बैंक के बचत खाते पर अधिकतम 3.25 फीसदी का सालाना ब्याज मिलेगा.

Leave a Reply

%d bloggers like this: