वानखेड़े में होने से बेहतर कुछ और नहीं है : रहाणे

Ajinkya-Rahane
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

मुंबई में वर्ष 2015 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 87 रन की अपनी पारी को याद करते हुए भारतीय क्रिकेट टीम के मध्यक्रम के बल्लेबाज अजिंक्या रहाणे ने वानखेड़े स्टेडियम को अपना पसंदीदा मैदान बताते हुए कहा कि इस मैदान में होने से बेहतर कुछ और नहीं है. साथ ही उन्होंने कहा कि वानखेड़े में अपनेपन की भावना महसूस होती है.

रहाणे ने सोशल साइट्स इंस्टाग्राम पोस्ट पर लिखा “वानखेड़े में घर पर होने जैसा महसूस होता है, और जब मैं वानखेड़े में खेलता हूं, तो मेरे लिए यह सबसे बेहतर पलों में से एक होता है. मुझे यहां जो अपनापन और ऊर्जा महसूस होती है, वह अविश्वसनीय है. क्रिकेट खेलने के लिए यह मेरा पसंदीदा मैदान है.”

बता दें कि वर्ष 2015 में पांच मैचों की एकदिनी श्रृंखला के आखिरी मैच में मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में क्विंटन डिकॉक (109), फॉफ डुप्लेसिस (133) और एबी डिविलियर्स(119) की शतकीय पारियों की बदौलत दक्षिण अफ्रीका ने निर्धारित 50 ओवर में चार विकेट पर 438 रनों का जो विशाल स्कोर खड़ा किया उसके जवाब में भारतीय टीम 36 ओवर में केवल 224 रन पर सिमट गई. भारत की तरफ से शिखर धवन (60) और अजिंक्या रहाणे (87) ने ही कुछ संघर्ष किया.

हिन्दुस्थान समाचार/सुनील