‘एक्सप्लोरिंग बड्र्स इन बांसवाड़ा’: पक्षी प्रेमियों को लुभा रही हैं परिंदों की जल क्रीड़ाएं

  • परिंदों के साथ-साथ व्हाइट थ्रोटेड किंगफिशर, ग्रीन बी ईटर, स्टॉन चैट, डबचिक और अन्य पक्षियों की जलक्रीड़ाओं को देखा गया
  • लोधा तालाब पर क्लब सदस्यों ने पांच सीगल पक्षियों की उपस्थिति पर खुशी जताई

उदयपुर. उदयपुर संभाग के बांसवाड़ा जिले की आबोहवा में पाये जाने वाले प्रवासी व स्थानीय परिंदों के बारे मे जानकारी संकलित कर जन-जन तक रूबरू करवाने के उद्देश्य से वागड़ नेचर क्लब द्वारा प्रारंभ किए गए ‘एक्सप्लोरिंग बर्ड्स इन बांसवाड़ा’ कार्यक्रम के तहत बर्डवॉचिंग के तहत कूपड़ा और लोधा तालाब का दौरा किया गया. इस दौरान परिंदों की जलक्रीड़ाओं ने पक्षीप्रेमियों को बेहद लुभाया.

वागड़ नेचर क्लब के डॉ. कमलेश शर्मा व भरत कंसारा के साथ सदस्यों ने कूपड़ा तालाब पर सर्वाधिक तादाद में स्थानीय पक्षी कॉटन पिग्मी गूज और स्पॉटबिल डक की गतिविधियां देखी. यहां पर प्रवासी पक्षी गेडवाल, शॉवलर व वेगटेल के साथ-साथ प्रवासी शिकारी पक्षी मार्श हेरियर द्वारा कॉमन कूट्स के शिकार के दृश्यों ने सदस्यों को रोमांचित किया.

यहां पर इन परिंदों के साथ-साथ व्हाइट थ्रोटेड किंगफिशर, ग्रीन बी ईटर, स्टॉन चैट, डबचिक और अन्य पक्षियों की जलक्रीड़ाओं को देखा गया. क्लब सदस्यों ने देखे गए पक्षियों की चैकलिस्ट भी तैयार की.

इसी प्रकार लोधा तालाब पर क्लब सदस्यों ने पांच सीगल पक्षियों की उपस्थिति पर खुशी जताई और यहां पर भी प्रवासी पक्षी मार्श हेरियर द्वारा शिकार के दृश्यों को देखा गया. इस दौरान यहां पर ग्रे हेरोन, विसलिंग टिल और बड़ी संख्या में कॉमन कूट्स की उपस्थिति दर्ज की.

Trending News: Aaj ka Samachar | News Today | Udaipur Rajashthan News

हिन्दुस्थान समाचार/सुनीता / ईश्वर

Leave a Reply

%d bloggers like this: