एसडीएम तथा अधिवक्ता के बीच विवाद से गर्माया माहौल, तनाव

प्रतापगढ़ जनपद के लालगंज तहसील में शुक्रवार को एसडीएम द्वारा एक वकील के घर पहुंचकर पिता के साथ अभद्रता ने आग मे घी का काम कर दिया. नाराज वकीलों और एसडीएम के बीच हुई नोंक झोक बडे़ बवाल का रूप लेने की ओर दिखाई दिया.

मामला तब और बिगड़ गया जब आपस की कहासुनी में भिडे़ वकील तथा एसडीएम एक दूसरे को खरी खोटी सुना ही रहे थे कि एसडीएम ने अचानक अपनी सुरक्षा मे तैनात गार्ड की राइफल हाथ मे लेने का प्रयास करते हुए उसे फायरिंग के लिए ललकारने लगे. हालांकि वकीलों के गुस्से के बावजूद भी कुछ वरिष्ठ अधिवक्ताओं ने गुस्साये साथियों को समझा बुझाकर अनहोनी होने से बचा लिया.

शुक्रवार को एसडीएम विनीत उपाध्याय अपरान्ह पूरे तिलकराम गांव में अधिवक्ता संघ के पूर्व अध्यक्ष अजय शुक्ल गुडडू के आवास पर पहुंचे. एसडीएम ने उनके बीमार चल रहे पिता तथा रिटायर्ड शिक्षक चंद्रमौलि शुक्ल से कहा कि तुम्हारा लड़का वकील है और वह गुण्डा है.

इस पर शिक्षक ने एसडीएम से तहसील के घटनाचक्र से अनभिज्ञता प्रकट की. अधिवक्ता के पिता के साथ अभद्रता की जानकारी तहसील के वकीलों के बीच जंगल मे आग की तरह फैल गई. वकीलों का जत्था आनन फानन जमा हो गया. जहां वकीलों तथा एसडीएम के बीच जमकर नोकझोक हुई.

वकीलों का आक्रोश बढ़ता देख राहगीरों तथा आसपास के ग्रामीणों की भीड़ जुट गई. वकीलों ने एसडीएम की कार्यशैली पर नाराजगी जताई, तब तक एसडीएम ने सुरक्षा में लगे होमगार्ड की राइफल पकड़कर वकीलों की तरफ तनवाने लगे. इस पर वकीलों का आक्रोश और भड़क गया. तब तक कुछ वरिष्ठ अधिवक्ताओं ने साथियों को समझा बुझाकर माहौल शांत किया. इधर वकीलों का रूख भांपकर एसडीएम वकीलों को धमकाते सरकारी जीप पर बैठे और वहां से चले गये.

आक्रोशित वकीलों ने सीओ रमेशचंद्र से मिलकर पूरे घटनाक्रम की जानकारी दी. सीओ ने स्थिति से दूरभाष पर एसपी को अवगत कराते हुए अधिवक्ताओं से संयम बरतने का अनुरोध किया. सीओ के साथ वार्ता मे संयुक्त अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष विकास मिश्र, महामंत्री आशीष तिवारी समेत कई अधिवक्ता मौजूद रहे.

हिन्दुस्थान समाचार/दीपेन्द्र/विद्या कान्त

Leave a Comment