फैमिली कोर्ट में हाजिर हुए तेजप्रताप और ऐश्वर्या

पटना, 08 अगस्त. लालू यादव के बड़े बेटे और पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव गुरुवार को पत्नी ऐश्वर्या को तलाक देने के मामले में गवाही देने के लिए पटना सिविल कोर्ट पहुंचे.

उनकी पत्नी ऐश्वर्या राय अपने पिता चंद्रिका राय और पूर्णिमा राय के साथ हाजिर हुईं. ऐश्वर्या राय ने कोर्ट में दिए गए अपने आवेदन में तेजप्रताप यादव पर नशा करने समेत अन्य कई गंभीर आरोप लगाए थे.

उल्लेखनीय है कि ऐश्वर्या राय से पहले तलाक की मांग करते हुए तेजप्रताप यादव ने फैमिली कोर्ट में तलाक की अर्जी दायर की थी.

उनका कहना था कि वह ऐश्वर्या के साथ नहीं रह सकते क्योंकि वह आधुनिक लड़की है जबकि वह एक साधारण इंसान हैं.

ऐश्वर्या के साथ वह घुटन महसूस कर रहे हैं. परिवार की ओर से तेजप्रताप यादव पर लगातार ऐश्वर्या के साथ सुलह करने का दबाव बन रहा था लेकिन वह अपनी जिद पर अड़े रहे.

आपको बता दे कि करीब दो माह पूर्व संपन्न लोकसभा चुनाव के समय भी तेजप्रताप ने अपने ससुर चंद्रिका राय को सारण से आरजेडी प्रत्याशी के तौर पर टिकट देने का विरोध किया था.

साथ ही उन्होंने चंद्रिका राय के खिलाफ अपना अलग प्रत्याशी भी उतारा था, लेकिन उसका नामांकन कैंसिल हो गया था. हालांकि चंद्रिका राय को बीजेपी प्रत्याशी राजीव प्रताप रूड़ी से करारी हार का सामना करना पड़ा था.

साथ ही आरजेडी सहित महागठबंधन के सभी घटक दलों कांग्रेस, आरजेडी, हम, रालोसपा और वीआईपी को बिहार की 40 सीटों में से सिर्फ कांग्रेस ही अपने हिस्से की एक सीट किशनगंज को जीतने में सफल रही थी.

इस सीट पर जेडीयू प्रत्याशी महमूद अशरफ को कांग्रेस प्रत्याशी मोहम्मद जावेद से 34466 वोटों से हार का सामना करना पड़ा था.

लोकसभा चुनाव में आरजेडी की करारी हार के बाद तेजस्वी यादव के नेतृत्व पर सवाल उठे थे. लोकसभा चुनाव के बाद तेजस्वी यादव काफी दिनों तक गायब रहे.

जिसको लेकर चर्चाओं का बाजार गर्म रहा था. फिर जब बिहार विधानसभा का सत्र शुरू हुआ था तब तेजस्वी यादव नजर आए थे. हिन्दुस्थान समाचार/आलोक

Leave a Reply

%d bloggers like this: