PM MODI को मारने वाले वायरल VIDEO पर तेज बहादुर ने दी ये सफाई..

  • विडियो में तेज बहादुर किसी के सवाल के जवाब में कह रहे हैं कि आप 50 करोड़ दो मैं मोदी को मरवा दूंगा
  • तेज बहादुर ने पीएम मोदी को चुनौती देने के लिए 29 अप्रैल को नामांकन दाखिल किया था, लेकिन जांच के बाद चुनाव आयोग ने इसे रद्द कर दिया

नई दिल्ली. बीएसएफ से बर्खास्त सिपाही तेजबहादुर यादव के दो वीडियो तेजी से वायरल हो रहे हैं. एक वीडियो में बर्खास्त फौजी अपने साथियों के साथ शराब पीते नजर आ रहा है. दूसरे वायरल वीडियो में तेजबहादुर व उसके साथी 50 करोड़ रुपये मिलने पर 72 घंटे के अंदर पीएम मोदी को मारने की बात कह रहे हैं. हम इस वीडियो की पुष्टि नहीं कर रहे हैं.

विडियो में तेज बहादुर किसी के सवाल के जवाब में कह रहे हैं कि आप 50 करोड़ दो मैं मोदी को मरवा दूंगा. हालांकि, अब विडियो पर सफाई देते हुए तेज बहादुर ने कहा कि उस वक्त वो नशे में थे और ये विडियो उन्हें ब्लैकमेल करने के लिए प्रयोग किया जा रहा है.

बीजेपी ने वीडियो पर प्रतिक्रिया देते हुए इसे पीएम नरेंद्र मोदी की हत्या की साजिश करार दिया है. वीडियो में ये कहते हुए दिखाया गया है कि 50 करोड़ देने पर पीएम मोदी की हत्या करवा देंगे.

वीडियो क्वालिटी साफ नहीं है. चेहरा धुंधला है और आवाज भी बहुत साफ नहीं है. सोशल मीडिया पर काफी लोगों ने इस वीडियो पर प्रतिक्रिया दी है. वीडियो को शहजाद पूनावाला ने ट्विट किया है. इस वीडियो को सैकड़ों लोगों ने ट्विटर पर शेयर किया है. हजारों लोग इस वीडियो को देख चुके हैं.

वहीं इस वीडियो को लेकर तेज बहादुर का कहना है कि- ‘मैंने वो वीडियो देखा है. ये वीडियो बिना मेरी जानकारी के 2017 में शूट किया गया. मैंने उस व्यक्ति से सैनिकों से जुड़े विभिन्न मसलों पर बात की. लेकिन मैंने कभी पीएम की हत्या को लेकर बात नहीं की है. इस वीडियो से छेड़छाड़ किया गया है.’

वहीं, बीजेपी प्रवक्ता जी वी एल नरसिम्हा राव ने आरोप लगाते हुए कहा कि ये निराशाजनक है कि प्रधानमंत्री की हत्या के लिए एक और षड्यंत्र उस व्यक्ति ने किया है जिसे वाराणसी से समाजवादी पार्टी ने लोकसभा का उम्मीदवार बनाया है.

तेज बहादुर यादव ने वाराणसी से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ नामांकन दाखिल किया था. सपा ने उन्हें अपना कैंडिडेट बनाया था. लेकिन उनका नामांकन चुनाव आयोग ने रद्द कर दिया था.

तेज बहादुर ने पीएम मोदी को चुनौती देने के लिए 29 अप्रैल को नामांकन दाखिल किया था, लेकिन जांच के बाद चुनाव आयोग ने इसे रद्द कर दिया. तेज बहादुर गठबंधन प्रत्याशी शालिनी यादव का समर्थन करने का ऐलान कर चुके हैं और लगातार काशी में शालिनी यादव के लिए डोर-टू-डोर कैंपेनिंग कर रहे हैं.

Trending Tags- Tej Bahadur Yadav, Varanasi, Tej Bahadur video viral, Narendra Modi, BSF food complaint, News today, Aaj ka samahar