SWINE FLU : बचने के लिए लें PRECAUTIONS

देश के अलग-अलग राज्यों में एक बार फिर स्वाइन फ्लू अपने पैर पसार रहा है. स्वाइन फ्लू का प्रकोप एक बार फिर जारी है. अकेले दिल्ली की बात करें तो स्वाइन फ्लू के मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है. 

दिल्ली में साल की शुरूआत से सोमवार तक 8 मौतें हो चुकी हैं. इस महीने अभी तक स्वाइन फ्लू (H1N1) के के मरीजों की संख्या 479 तक पहुंच चुकी है.

National Centre for Disease Control (NCDC) के अनुसार दिल्ली में 01 जनवरी से 27 जनवरी तक स्वाइन फ्लू के 479 केस पॉजिटिव पाए गए हैं.

DELHI HEALTH DEPARTMENT की महानिदेशक डॉक्टर नूतन मुंदेजा ने भी मंगलवार को इसे एक्सेप्ट किया. उन्होंने कहा कि दिल्ली में सोमवार शाम 5 बजे से मंगलवार शाम 5 बजे तक 24 घंटे में स्वाइन फ्लू के 72 मामले सामने आए हैं.

Ram Manohar Lohiya Hospital से मिली इंफरमेशन के आधार पर इस महीने स्वाइन फ्लू के 15 केस पॉजिटिव पाए गए व 08 लोगों की मौत हो गई.

वहीं एम्स में स्वाइन फ्लू के 16 केस पॉजिटिव पाए गए हैं, जिसमें से तीन पेशेंट्स की हालत सीरियस बनी हुई है. उन्हें आईसीयू में रखा गया है. 

इस महीने सफदरजंग अस्पताल में भी तीन लोगों की मौत स्वाइन फ्लू से हुई है. Ministry of Health and Family Welfare ने मौसमी फ्लू से बचने के लिए लोगों के लिए एडवाइस भी जारी की थी. इस एडवाइस में कहा गया था कि लोग अगर अपने डेली रूटिन में प्रिकॅाशन्स लें तो मौसमी फ्लू से बच सकते हैं.

मौसमी फ्लू से बचने के लिए क्या न करें

हाथ ना मिलाएं, गले ना लगें, बॅाडी टच होने वाले दूसरे अभिवादन ना करें, Public places पर ना थूकें, डॅाक्टर से कंसलटेशन के बिना दवाई ना लें.

क्या करें

– छींकने व खांसते वक्त अपने मुंह और नाक को रुमाल या कपड़े से अवश्य ढकें.

– अपने हाथ साबुन से धोएं.

– नाक, आंख या मुंह ना छुएं.

– भीड़भाड़ वाली जगहों पर जाने से बचें.

– फ्लू से संक्रमित लोगों से एक हाथ से अधिक दूरी पर रहें.

– बुखार, खांसी और गले में खराश हो तो सार्वजनिक जगहों से दूर रहें.

– खूब पानी पीएं और पौष्टिक आहार लें.

– पूरी नींद लें.

%d bloggers like this: