एक दूसरे के खिलाफ सियासी पिच पर उतरेंगी जेठानी-देवरानी

हरियाणा की राजनीति की पहचान और हरियाणा निर्माता कहे जाने वाले पूर्व प्रधानमंत्री ताऊ देवीलाल चौटाला की तीसरी पीढ़ी की बहू ने राजनीति में कदम रख दिया है. इंडियन नेशनल लोक दल (इनेलो) से सक्रिय राजनीति में कदम रखने वाली सुनैना का सीधा मुकाबला उनकी जेठानी नैना चौटाला से होगा.

इनेलो ने सुनैना चौटाला को महिली प्रकोष्ठ की राज्य कार्यकारिणी में प्रधान महासचिव के पद पर नियुक्त किया है. सुनैना, ओमप्रकाश चौटाला के छोटे भाई व पूर्व विधायक स्व प्रताप चौटाला के बेटे रवि चौटाला की पत्नी हैं. सुनैना अपने कॉलेज के दिनों में छात्र राजनीति में भी काफी सक्रिय रही हैं. वो छात्रसंध की कॉलेज प्रधान भी रही हैं. अब सुनैना इनेलो से महिलाओं को जोड़ने का काम करेंगी.

सुनैना की जेठानी नैना चौटाला देवीलाल परिवार की पहली महिला हैं जो विधानसभा पहुंची. वहीं अब नैना के बेटे दुष्यंत चौटाला ने भी परिवार की इस विरासत को संभाला और अपनी मां के चुनाव प्रचार के लिए उनके साथ खड़े रहे. दुष्यंत हिसार से लोकसभा सांसद हैं.

वहीं पार्टी के वरिष्ठ नेता अभय चौटाला की पत्नी कांता चौटाला ने डबवाली उपमंडल में जिला परिषद का चुनाव लड़ा, लेकिन अपने ही देवर आदित्य चौटाला से हार गईं

देवीलाल के बेटे ओमप्रकाश चौटाला 5 बार हरियाणा के मुख्यमंत्री के रुप में शपथ ले चुके हैं.
देवीलाल के चार बेटे हैं. ओमप्रकाश चौटाला, रणजीत चौटाला, प्रताप और जगदीश.
ओमप्रकाश चौटाला के बेटे अजय चौटाल और अभय चौटाला भी विधायक रह चुके हैं.

%d bloggers like this: