वोट मांगते हो हिन्दुओं के नाम पर और कानून बनाते हो जाति के नाम पर-सुखदेव सिंह गोगामेड़ी

बीकानेर. हमारे नेता वोट तो मांगते हैं हिन्दुओं के नाम पर और कानून बनाते हैं जाति के नाम पर.शर्म करो इस देश के नेताओं.एससी एसटी एट्रोसिटी एक्ट अपनी नाराजगी जताते हुए यह बात श्रीराजपूत राष्ट्रीय करणी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी ने रविवार को पुष्करणा स्टेडियम में ‘मैं भारत हूं’ की ओर से आयोजित राष्ट्रवादी स्वाभिमान समागम कार्यक्रम में कही.

गोगामेड़ी ने कहा कि अब 95 प्रतिशत वंचित गरीब दलितों ने सम्पन्न दलितों के खिलाफ आवाज बुलंद करनी शुरू कर दी है और हमारे साथ कंधे से कंधा मिलाने को तैयार होंगे.उन्होंने कहा कि बाबा साहेब अंबेडकर ने कहा था कि एक भी दलित इस आरक्षण से सक्षम हो जाए तो वो अपने समाज को सक्षम करें, लेकिन कौन ऐसा आईएएस, आईपीएस, सांसद या विधायक है जिसने अपने समाज को ऊंचा उठाया है.वो केवल अपना ही घर भर रहे हैं जिसके पास 5 बीघा जमीन है तो 100 बीघा बना रहे हैं.कोई भी अमीर दलित गरीब दलित की जात तक नहीं पूछता.जबकि हमारे गांव में किसी दलित की शादी होती है तो पूरा गांव सहयोग करता है, उस दिन ये दलित सेनाएं और नेता कहां चले जाते हैं.राजनीतिक पार्टियां केवल हमें बरगलाने का काम करती है.हम चाहते हैं कि अमीर दलित आरक्षण छोड़े और इसे आर्थिक आधार पर कर दें ताकि गरीब दलित को मौका मिले.

आतंकी की होती सुनवाई, लेकिन हिन्दुस्तानी की नहीं

गोगामेड़ी ने एससी एसटी एट्रोसिटी एक्ट पर कटाक्ष करते हुए कहा कि देश की संसद पर हमला करने वाले कसाब की सुनवाई होती है और एक हिन्दुस्तानी को एससी एसटी एक्ट मे बगैर जांच किए जेल में डाल दो.यह कहां का इंसाफ है.क्यों नही बोल रहे सांसद, क्यों नहीं बोल रही भारत की जनता.इस एक्ट में से अधिकांश झूठे मुकदमे होते हैं.उन्होंने उपस्थित युवाओं को कहा कि यदि संगठित रहोगे तो ताकत बनेगी और उस ताकत सब सलाम करेंगे.

हिन्दुस्थान समाचार/राजीव

Leave a Reply

%d bloggers like this: