“Shubh Mangal Zyada Saavdhan ट्रेलर रिव्यू : एलजीबीटी कपल की अनोखी लवस्टोरी”

आज भी वेल एजुकेटिड होन के बावजूद भी हमें से कई लोगों को थर्ड जेंडर के बारे में बात करने में शर्म आती है. जिन्हें देखकर हम हंसते हैं वही अगर हमारे आस-पास हमारा हिस्सा बनना चाहे तो हमे परेशानी होने लगती है.

समाज के इन्ही सिटिरियोटाइप को तोड़ती आयुष्मान खुराना की मोस्ट अवेटिड फिल्म शुभ मंगल ज्यादा सावधान का ट्रेलर रिलीज हो गया है और ट्रेलर को देखकर जो पहला वर्ड जुंबा पर आता है वो है फैंटेस्टिक.

फिल्म का ट्रेलर लाजवाब कॉमेडी पंचस के साथ कई impactful social messages देता है जो कि लाजवाब है. फिल्म एक ऐसे टॉपिक पर बनी है जिस पर लोग अक्सर बात करने से बचते हैं और ये हैरान करने वाली बात है कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले और कई awareness के बाद भी लोग उसी पुरानी सोच को लेकर चल रहे हैं और फिल्म शुभ मंगल ज्यादा सावधान का प्लॉट इसी पर बेस्ड है.

फिल्म के ट्रेलर की शुरुआत आयुष्मान खुराना के साथ हो रही है जहां एक बुजर्ग आदमी उनसे इनडायरेक्ट वे में  सवाल कर रहे हैं कि ये कैसे हुआ तुमने ये बनने का कब फैसला किया. इन सवालों पर हंसी भी आती है और अफसोस भी होता है कि लोग थर्ड जेंडर को एक्सेपट करने से इतना शर्माते क्यों है पर कहीं ना कहीं ये हकीकत भी है क्योंकि असल जिंदगी में भी हमारे लिए वर्ड कॉमन नहीं है.

लेकिन जब आयुष्मना खुराना खुद अपने जुंबा से कहते है कि इसे गे कहते हैं तो एक कॉन्फिडेंस पैदा होता है. ये कॉमन है और इसमें कुछ भी गलत नहीं है. फिल्म के ट्रेलर से जो कहानी समझ आती है वो ये कि ये फिल्म दो लजीबीटी लवर्स की कहानी है. कार्तिक सिंह और अमन त्रिपाठी.

जहां पर आयुष्मान खुराना एक डयेरिंग लवर का रोल प्ले कर रहे हैं जो अपने प्यार को पाने के लिए किसी भी हद तक जाने के लिए तैयार है वहीं जितेंद्र कुमार एक ऐसे लड़के का रोल प्ले कर रहे हैं जिसे अपनी सच्चाई को एक्सपेंट करने से हिचकिचाहट है.

पर यहां एक इंटरस्टिंग बात ये भी है कार्तिक सिंह उर्फ आयुष्मान खुराना की फैमिली ज्यादा पढ़ी लिखी नहीं है पर अमन त्रिपाठी उर्फ जितेंद्र कुमार एक वेल एजुकेटिड फैमिली को बिलोंग करते है बावजूद इसके अमन की फैमिली उसकी इस सच्चाई को एक्सपेट करने को तैयार नहीं है.

इसके बाद वही सब चीजें ट्रेलर में होती दिखाई गई है जो actually में इंडियन फैमिलीज में देखने को मिलती है किसने कुछ खिला दिया है, काला जादू कर दिया है, इसे उसे दूर रखो वैगराह वैगराह.

अमन को कार्तिक से दूर करने के लिए उसकी जबरदस्ती शादी तय की गई है. शुभ मगंल ज्यादा सावधान की जो खास बात नजर आती है वो ये कि फिल्म मजाक मजाक में बहुत अहम टॉपिक्स पर ध्यान खींचा गया है और कहीं ना कहीं जब आडियंस इन बातों को समझेगी तो थिएटर्स से अलग सोच के साथ बाहर निकलेगी.

फिल्म में आयुष्मान खुराना जितेंद्र कुमार के अलावा नीना गुप्ता, गजेंद्र, पंखुडी़ अवस्थी जैसे एक्टर भी अहम रोल में है. फिल्म 21 फरवरी को रिलीज हो रही हैं.

Leave a Reply

%d bloggers like this: