काशी विद्यापीठ में सीएम का पुतला फूंकने की कोशिश

समाजवादी पार्टी के मुखिया और प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को लखनऊ एयरपोर्ट पर रोकने का विवाद थम नहीं रहा है. इस मामले को लेकर लगातार दूसरे दिन भी महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ के छात्र और समाजवादी छात्र सभा के कार्यकर्ता परिसर में हंगामा करते रहे.

वाराणसी के काशी विद्यापीठ विश्वविद्यालय में छात्र संघ महामंत्री दिग्वंत पांडेय के नेतृत्व में जुटे कार्यकर्ताओं ने प्रदेश सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की. विश्वविद्यालय के गेट नम्बर एक पर छात्रों ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का पुतला फूंकने की कोशिश की, पुलिस के जवानों ने भारी मशक्कत के बाद छात्रों कोे ऐसा करने से रोक लिया.

अखिलेश के हवाई ब्रेक पर बवाल, लाठीचार्ज में धर्मेंद्र चोटिल, भतीजे के साथ रामगोपाल

विरोध प्रदर्शन के दौरान मौजूद पुलिस कर्मियों ने पुतला छीनकर छात्रों को रोका. पुतला दहन करने आए छात्र संघ महामंत्री दिग्वंत पांडेय ने कहा कि हमारे पार्टी के मुखिया पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को इलाहाबाद विश्वविद्यालय जाने से रोकने के ​लिए प्रदेश सरकार ने पूरी ताकत लगा दी.

महामंत्री ने कहा कि लखनऊ एयरपोर्ट पर उन्हें रोक कर सरकार ने लोकतंत्र और संविधान का अपमान किया है. पार्टी कार्यकर्ता प्रदेश सरकार के तानाशाही रवैये की निन्दा करते हुए लगातार कड़ा विरोध करते रहेंगे.

लखनऊ एयरपोर्ट पर रोके गए अखिलेश, भड़के सपाई, सीएम ने कहा- कानून व्यवस्था बिगड़ने का था खतरा

उधर इस मामले को लेकर ही मंगलवार को कोतवाली में प्रदर्शन करने वाले समाजवादी युवजन सभा के नेता किशन दीक्षित सहित 41 कार्यकर्ताओं का पुलिस ने चालान कर दिया. बाद में गिरफ्तार कार्यकर्ताओं को सिटी मजिस्ट्रेट ने निजी मुचलके पर रिहा कर दिया.

हिन्दुस्थान समाचार/श्रीधर/मधुकर

%d bloggers like this: