त्योहार के मौसम में कोविड-19 से दूर रहने के लिए रहें सतर्क और सावधान

coronavirus india
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

कोविड-19 का दौर अभी खत्म नहीं हुआ है. मौसम भी तेजी से बदल रहा है. पहाड़ी क्षेत्रों में हुई बर्फबारी के कारण तापमान अचानक ही दस डिग्री से अधिक नीचे गिर गया है.त्योहारों का मौसम शुरू है, दुर्गा पूजा संपन्न होने के बाद अब हर ओर दीपावली, काली पूजा और छठ की तैयारी जोर-शोर से हो रही है.

ऐसे में विशेष रूप से सतर्क और सावधान रहना जरूरी है. तत्काल सतर्कता ही कोविड-19 से बचाव का सबसे आसान और बेहतर उपाय है. इसके लिए हमें नियमित रूप से मास्क का उपयोग करना होगा. हमेशा दो गज की शारीरिक दूरी बनाए रखनी होगी. इसके लिए लोगों को जागरूक भी करना होगा. ताकि खुद के साथ-साथ पूरा समाज भी संक्रमण के दायरे से दूर रहे.

कोविड-19 से बचाव के लिए रहना होगा सजग-

कोविड-19 से बचाव के लिए लोगों में सकारात्मक बदलाव हुए हैं. लेकिन अभी और सतर्क एवं सावधान रहने की जरूरत है. त्योहार के मौसम में सामुदायिक स्तर पर लोगों को जागरूक होने की जरूरत है. ताकि पूरा समाज सुरक्षित रह सके. काली मेला में लोग प्रोटोकॉल का पालन करें. छठ में प्रोटोकॉल का पालन करते हुए सामाजिक दूरी बनाए रखें, अन्यथा कोरोना वायरस संक्रमण का विस्फोट हो सकता है.

लक्षण दिखते ही कराएं जांच और रहें सुरक्षित-

अगर कोविड-19 संक्रमण से दूर रहना है और दूसरों को दूर रखना है तो लक्षण दिखते ही बेहिचक तुरंत स्थानीय स्वास्थ्य संस्थान में जांच करानी चाहिए. ताकि जल्द से जल्द स्वस्थ हो सकें और दूसरों को भी संक्रमण के खतरे से बचा सकें. दरअसल, शुरुआती दौर में जांच कराने से बीमारी का शुरुआती दौर में ही पता चल जाता है. जिससे लोगों को अधिक परेशानी का सामना नहीं पड़ता और परिवार के अन्य लोगों को भी संक्रमण का खतरा उत्पन्न होने की संभावना नहीं के बराबर होती है.

मास्क और सैनिटाइजर का करें नियमित उपयोग-

इससे बचाव के लिए मास्क और सैनिटाइजर का नियमित रूप से उपयोग करना जरूरी है. क्योंकि, वैक्सीन आने तक यही सबसे आसान और बेहतर उपाय है. इसके अलावे दो गज की शारीरिक दूरी समेत अन्य आवश्यक गाइडलाइन का भी पालन करना बेहद जरूरी है. नियमित अंतराल पर हाथ साफ करते रहें. भीड़-भाड़ वाले जगहों पर जाने से बचें.

इन मानकों का पालन कर कोविड-19 से रहें दूर-

व्यक्तिगत स्वच्छता और छह फीट की शारीरिक दूरी बनाए रखें. बार-बार हाथ धोने की आदत डालें. साबुन और पानी से हाथ धोएं या अल्कोहल आधारित हैंड सैनिटाइजर का इस्तेमाल करें. छींकते और खांसते समय अपनी नाक और मुंह को रूमाल या टिशू से ढ़कें. उपयोग किए गए टिशू को उपयोग के तुरंत बाद बंद डिब्बे में फेंकें.

हिन्दुस्थान समाचार/सुरेन्द्र