Karnataka Crisis: स्पीकर बोले- पोस्टल सर्विस मान्य नहीं, मेरे पास आकर इस्तीफा दें MLA
  • कर्नाटक मसले पर स्पीकर रमेश कुमार ने टिप्पणी की है. उन्होंने कहा कि जिस भी विधायक को इस्तीफा देना होगा
  • मैं नियमों के अनुसार ही फैसला लूंगा अगर कोई विधायक मुझसे मिलना चाहता है

नई दिल्ली. कर्नाटक में कांग्रेस और जेडीएस (JDS) की सरकार पर संकट के बादल छाए हुए हैं. बीते तीन दिनों से राज्य में लगातार राजनीतिक उथलपुथल मची हुई है. इस मसले के बीच स्पीकर का बयान आया है.

कर्नाटक मसले पर स्पीकर रमेश कुमार ने टिप्पणी की है. उन्होंने कहा कि जिस भी विधायक को इस्तीफा देना होगा, उन्हें मेरे पास आना ही होगा. अगर पोस्टल सर्विस से ही इस्तीफे मंजूर होंगे, तो यहां पर मेरा क्या काम है.

इतना ही नहीं, उन्होंने कहा कि इसके लिए कोई समय की पाबंदी नहीं है. मैं नियमों के अनुसार ही फैसला लूंगा अगर कोई विधायक मुझसे मिलना चाहता है, तो मैं अपने ऑफिस में उपलब्ध हूं.

कर्नाटक में कांग्रेस-जेडीएस सरकार पर संकट के बादल मंडरा रहे हैं. मंगलवार सुबह बेंगलुरु में बीजेपी नेता और राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा के आवास पर बीजेपी (BJP) नेता जुटे. इन नेताओं में मुरुगेश निरानी, उमेश कट्टी, जेएसी मधुस्वामी और के रत्ना प्रभा शामिल थे.

सिद्धारमैया, प्रियांक खड़गे और अन्य कांग्रेस नेता बेंगलुरु में विधानसभा में कांग्रेस विधायक दल की बैठक के लिए पहुंच गए.

कर्नाटक (Karnataka) में कांग्रेस और जेडीएस गठबंधन वाली 13 महीने पुरानी सरकार को बचाने की जद्दोजहद के तहत दोनों दलों के मंत्रियों ने इस्तीफा दे दिया है.

इस्तीफा दे चुके सभी बागी विधायक अपने फैसले पर अड़े हुए हैं और पल-पल अपना ठिकाना बदल रहे हैं. वहीं मुख्यमंत्री कुमारस्वामी का कहना है कि सरकार को कोई खतरा नहीं है.

इसे मंत्रिमंडल के पुनर्गठन के लिए उठाए गए कदम के रूप में देखा जा रहा है ताकि असंतुष्ट विधायकों को सरकार में शामिल किया जा सके. इसके बावजूद बागी विधायकों ने अभी पत्ता नहीं खोला है. वहीं कांग्रेस ने विधानसभा अध्यक्ष से अनुरोध किया है कि 13 बागी विधायकों का इस्तीफा स्वीकार नहीं किया जाए.

वहीं, बीजेपी नेता शोभा ने बताया कि हमारे पास कांग्रेस जेडीएस गठबंधन से ज्यादा विधायक हैं. हमारे पास तकरीबन 107 विधायकों का समर्थन है. लेकिन वोगिरकर 103 पर पहुंच गए हैं. मुझे लगता है कि राज्यपाल को अब बीजेपी को सरकार बनाने का फैसला लेना चाहिए.

इस बीच कर्नाटक विधानसभा के स्पीकर के. रमेश कुमार पर आज हर किसी की नज़रें टिकी हैं. क्योंकि जिन 13 विधायकों ने इस्तीफा सौंपा है, उस पर उन्हें आज फैसला लेना है. अगर इस्तीफे मंजूर होते हैं तो एचडी कुमारस्वामी (HD Kumarswami) सरकार का काउंटडाउन शुरू हो सकता है.

Trending Tags- Karnataka Crisis | Hindi samachar | Political News

1 thought on “Karnataka Crisis: स्पीकर बोले- पोस्टल सर्विस मान्य नहीं, मेरे पास आकर इस्तीफा दें MLA”

Leave a Comment

%d bloggers like this: