नई दिल्ली. गोरखपुर में समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी और रालोद की रैली हुई. इस रैली में मायावती ने बीजेपी और कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा गया. मायावती ने कहा कि पीएम मोदी ने एक भी वादा पूरा नहीं किया है.

मायावती ने कहा कि बीजेपी ने अच्छे दिन दिखाने का झूठा वादा किया था. पूंजीपतियों को ही मालामाल किया है. केंद्र सरकार में किसान दुखी हैं. कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा कि कांग्रेस आजाद के बाद कई सालों तक राज किया लेकिन कुछ नहीं किया. कांग्रेस की गलत नीतियों के कारण ही इसे केंद्र से बाहर होना पड़ा.

केंद्र सरकार पर हमला करते हुए कहा कि दलित ही नहीं अपर कास्ट में भी गरीबों की हालत अच्छी नहीं हैं. नोटबंदी के बाद से बेरोजगारी और भ्रष्टाचार लगातार बढ़ता जा रहा है.

इस मौके पर सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि पिछली बार उप चुनाव में बसपा प्रमुख मायावती ने सिर्फ समर्थन दिया था तो कितना बड़ी जीत मिली थी, लेकिन इस बार तो गठबंधन हो गया है. अब आवाज मठ तक चली गई है. अब योगी आदित्यनाथ जान गए होंगे.

अखिलेश कहा ये वो लोग हैं जिन्होंने किसानों की आय दोगुनी करने की बात कही थी, युवाओं को रोजगार देने की बात कही थी. इन्होंने क्या किया. लोगों को नोटबंदी की तरह अब लाइन में लगकर सिलेंडर भरवाना पड़ रहा है.

उन्होंने पीएम मोदी को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि चाय वाले ने देश को धोखा दिया. अखिलेश यादव ने पूछा, ‘कैसा रहा चाय का स्वाद?’ फिर उन्होंने कहा कि केवल चौकीदार की कुर्सी छीनने से काम नहीं चलेगा.

अब योगी आदित्यनाथ जान गए होंगे.अखिलेश यादव ने कहा ये वो लोग हैं जिन्होंने किसानों की आय दोगुनी करने की बात कही थी, युवाओं को रोजगार देने की बात कही थी. इन्होंने क्या किया. लोगों को नोटबंदी की तरह अब लाइन में लगकर सिलेंडर भरवाना पड़ रहा है.