स्वामी अग्निवेश ने जीवनभर लड़ी समाज के हाशिए पर रहने वालों की लड़ाई: सोनिया गांधी

3
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

नई दिल्ली, 12 सितम्बर (हि.स.). कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने सामाजिक कार्यकर्ता स्वामी अग्निवेश के निधन पर दुख व्यक्त किया है. सोनिया ने कहा कि स्वामी अग्निवेश जीवन पर्यन्त समाज के सबसे हाशिए वाले वर्ग के लोगों के लिए साहस और दृढ़ता की लड़ाई लड़ी. वो सही मायनों में कमजोर और रक्षाहीन वर्ग के लिए शक्तिशाली और प्रभावी आवाज थे.

कांग्रेस अध्यक्ष ने शनिवार को बयान जारी कर कहा कि बीते दिन शुक्रवार को एक सामाजिक कार्यकर्ता स्वामी अग्निवेश का अचानक जाना शोषित और वंचित समाज के लिए बहुत दुखद घड़ी थी. वो जीवन भर वंचितों के अधिकारों के लिए आवाज उठाते रहे. अक्सर वह निजी जोखिम उठाकर भी लोगों की मदद किया करते थे. उन्होंने कहा कि रचनात्मक सामाजिक कार्यों में स्वामी अग्निवेश की भूमिका सराहनीय थी. वह न सिर्फ लोगों में ऊर्जा एवं विश्वास भरते थे बल्कि सभी को सदैव बेहतर करने के लिए प्रेरित भी करते थे.

सोनिया ने कहा कि अहिंसा और न्याय को लेकर वह लगातार लोगों के बीच समझ बनाने का काम करते रहे. यही नहीं छत्तीसगढ़ के आदिवासी लोगों के सामाजिक उत्थान की दिशा में भी उनका योगदान काफी अहम रहा है. देश उनकी स्मृति का सदैव सम्मान करेगा.

उल्लेखनीय है कि लंबे समय से बीमार चल रहे स्वामी अग्निवेश का शुक्रवार शाम दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया. दिल्ली के एक अस्पताल में भर्ती अग्निवेश लीवर सिरोसिस से पीड़ित थे, जिससे उनके कई अंगों ने काम करना बंद कर दिया था.

हिन्दुस्थान समाचार/आकाश/बच्चन