भारत में फैल सकती हैं ये गंभीर बीमारी, श्रीलंका भी है मुक्त…

भारत पर अब एक गंभीर बीमारी का खतरा मंडरा रहा है. एक ऐसी बीमारी जिससे श्रीलंका पूरी तरह से मुक्त हो चुका है. कुछ समय पहले जारी हुई एक रिपोर्ट में पता चला है कि भारत में 2018 के दौरान चेचक के 56 हजार से अधिक मामले आए हैं, जबकि एक हजार से भी ज्यादा रूबेला के मामले दर्ज हुए हैं.

वहीं श्रीलंका में इन दोनों ही बीमारियों (चेचक और रूबेला) के वायरस को पूर्ण रूप से समाप्त किया है. जबकि देखा जाए तो भारत में दोनों ही बीमारियों का खतरा बराबर बना हुआ है.

आपको बता दें की दोनों ही बीमारियां खतरनाक रूप से फैल जाती हैं. एक रोगी के जरिए ये दूसरे रोगी में भी संक्रमण पहुंचा देती हैं. यानी ये एक फैलने वाली बीमारी है.

श्रीलंका है चेचक से मुक्त

हाल ही में विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने घोषणा कर ये बताया है कि श्रीलंका पूरी तरह से चेचक से मुक्त हो चुका है. मगर गंभीर बात ये है कि बच्चों की ये गंभीर बीमारी अब भारत में फैल सकती है.

श्रीलंका साउथ एशिया का पांचवा देश है जो इस बीमारी से मुक्त हुआ है. बीते तीन सालों से श्रीलंका में चेचक का एक भी मामला सामने नहीं आया है. लाल चक्ततों की एक और बीमारी रूबेला से भी नियंत्रण पाया गया है.

वैसे साउथ एशिया में चेचक के कई मामले सामने आ रहे हैं. इसके बाद भी श्रीलंका चेचक से मुक्त देश बना है. इसके अलावा भूटान और मालदीव भी चेचक मुक्त देशों की सूची में शामिल है.

अगर इस बीमारी और भारत में संबंधित इसकी स्थिति की बात करें तो बीमारी पर पूरी तरह से काबू पा लिया है.

ये होते हैं लक्षण

इस बीमारी में पीडि़त के शरीर पर छाले, लाल धब्बे पड़ते हैं. इस बीमारी को गर्भवती महिलाओं और बच्चों में होने का खतरा ज्यादा रहता है. खास तौर से ध्यान रखें की अगर आप खांसते, छींकते हैं तो ये बीमारी ज्यादा फैल सकती है.

Leave a Comment

%d bloggers like this: