कश्मीर घाटी में एक बार फिर सुबह-शाम खुलने लगी दुकानें

श्रीनगर, 04 नवम्बर (हि.स.). कुलगाम में पिछले दिनों आतंकियों द्वारा की गई छह श्रमिकों की हत्या का असर कश्मीर घाटी में अब धीरे धीरे कम होने लगा है. अब धीरे-धीरे सुबह शाम एक बार फिर दुकानें खुलने लगी हैं.

सड़कों पर नीजि वाहनों की संख्या में भी बढोतरी देखी जा रही है. वहीं दसवीं तथा बारहवीं की बोर्ड परीक्षा बिना किसी बाधा के कड़ी सुरक्षा के बीच जारी है. इस सबके बीच घाटी के सभी संवेदनशील स्थानों पर अतिरिक्त सुरक्षाबलों को तैनात किया गया है.

दसवीं तथा बाहरवीं की बोर्ड परीक्षाओं के लिए श्रीनगर समेत अन्य जिलों में जिला प्रशासन ने परीक्षाओं के लिए प्रभावी कदम उठाए है. परीक्षा केंद्रों तक पहुंचाने के लिए यातायात के विशेष प्रबंध किए गए हैं. संवेदनशील इलाकों के स्कूलों में प्रशासन और पुलिस ने सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध किए हैं. स्कूलों के आसपास के इलाकों में कड़ी सुरक्षा बरती जा रही है.

सोमवार को भी कश्मीर घाटी में माहौल शांत है. सरकारी कार्यालय और बैंक सामान्य दिनों की तरहं ही खुले हैं. सरकारी कार्यालयों में कर्मचारियों की संख्या सामान्य से अधिक है. रेहड़ी फड़ी व खुले में सामान लगाकर बेचने वाले अपना सामान लेकर श्रीनगर तथा इसके आसपास के इलाकों में डटे हुए हैं.

लोग भी अपने रोज़ाना के कामों के लिए अपने घरों से बाहर निकल रहे है. सेब मंडियां सजी हुई हैं और मंडियों से सेब तथा दूसरा सूखा मेवा लगातार दूसरे राज्यों में भेजा जा रहा है.

लैंडलाइन फोन तथा मोबाइल पोस्ट पेड सेवा घाटी में सुचारू रूप से काम कर रही है जबकि प्री-पेड अभी बंद है. वहीं पूरे जम्मू-कश्मीर में मोबाइल इंटरनेट सेवा फिलहाल बंद है.

हिन्दुस्थान समाचार/बलवान

Leave a Comment