Hariyali Teej 2019- सुहागिन रख रहीं हैं तीज का व्रत, जानिए शुभ मुहूर्त और पूजा विधि

  • विवाहित महिलाओं के लिए इस पर्व का खास महत्व है
  • हरियाली तीज को ‘छोटी तीज’ और ‘श्रावण तीज’ के नाम से भी जाना जाता है

नई दिल्ली. हिंदू धर्म में हरियाली तीज का बहुत अधिक महत्व है. ये त्योहार आज यानी 3 अगस्त को भारत में बहुत ही धूमधाम से मनाया जा रहा है. इस दिन महिलाएं सोलह श्रृंगार करती हैं, हाथों में मेहंदी लगाती हैं, सावन के झूले झूलती है और लोकगीत गाती हैं.

विवाहित महिलाओं के लिए इस पर्व का खास महत्व है. मान्यता है कि इस दिन देवी पार्वती की विशेष पूजा करने से जीवन साथी को शुभ फल मिलते हैं. जीवन सुखी होता है.

हरियाली तीज 2019 के शुभ मुहूर्त
तृतीया तिथि प्रारंभ – 01:36 बजे (3 अगस्त 2019)
तृतीया तिथि समाप्त – 22:05 बजे (3 अगस्त 2019)इस व्रत को सुहागिन महिलाएं और कुंवारी कन्‍याएं रखती हैं. लेकिन एक बार व्रत रखने के बाद जीवन भर इस व्रत को रखना पड़ता है.

तीज के व्रत के नियम

व्रत करने वाली महिला को किसी पर भी गुस्‍सा नहीं करना चाहिए.

व्रत करने वाली महिला को पति के साथ क्‍लेश नहीं करना चाहिए. मान्‍यता है कि ऐसा करने से व्रत अधूरा रह जाता है.

अगर आप इस व्रत को रख रही हैं तो किसी बुजुर्ग का अपमान न करें. मान्‍यता है कि ऐसा करने से व्रत का प्रताप नहीं मिलता है.

इस व्रत में सोने की मनाही है. यहां तक कि रात को भी सोना वर्जित है. रात के वक्‍त भजन-कीर्तन किया जाता है.

व्रत अगले दिन सूर्योदय के बाद माता पार्वती को सिंदूर चढ़ाने के बाद ही छोड़ा जाता है.

ये है पूजन विधि
शनिवार को सुबह जल्दी उठें और पूजा करने का संकल्प लें. स्नान के बाद घर के मंदिर में भगवान के सामने कहें कि हम पति-पत्नी पुत्र, पौत्र, सौभाग्य वृद्धि और श्री शिव-पार्वती की कृपा प्राप्ति के लिए पूजा करने का संकल्प लेते हैं.

इसके बाद शिव-पार्वती की मूर्ति स्थापित करें. मूर्ति को लाल कपड़े पर रखना चाहिए. इसके बाद आटे से बना दीपक घी भरकर जलाएं. पूजा, आरती करें. पूजा में ऊँ उमामहेश्वराय नम: मंत्र का जाप करें.

हरियाली तीज का महत्‍व
हरियाली तीज को ‘छोटी तीज’ और ‘श्रावण तीज‘ के नाम से भी जाना जाता है. सावन में पड़ने वाली यह तीज सुहागिन स्त्रियों के लिए बेहद महत्‍वपूर्ण है.

हिन्‍दू धर्म की मान्‍यताओं के अनुसार यह त्‍योहार पति के प्रति पत्‍नी के समर्पण का प्रतीक है. मान्‍यता है कि इस दिन गौरी-शंकर की पूजा करने से सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं

Trending Tags- Teej 2019 | hariyali teej 2019 |teej festival | happy teej 2019



1 thought on “Hariyali Teej 2019- सुहागिन रख रहीं हैं तीज का व्रत, जानिए शुभ मुहूर्त और पूजा विधि”

Leave a Reply

  • विवाहित महिलाओं के लिए इस पर्व का खास महत्व है
  • हरियाली तीज को ‘छोटी तीज’ और ‘श्रावण तीज’ के नाम से भी जाना जाता है

नई दिल्ली. हिंदू धर्म में हरियाली तीज का बहुत अधिक महत्व है. ये त्योहार आज यानी 3 अगस्त को भारत में बहुत ही धूमधाम से मनाया जा रहा है. इस दिन महिलाएं सोलह श्रृंगार करती हैं, हाथों में मेहंदी लगाती हैं, सावन के झूले झूलती है और लोकगीत गाती हैं.

विवाहित महिलाओं के लिए इस पर्व का खास महत्व है. मान्यता है कि इस दिन देवी पार्वती की विशेष पूजा करने से जीवन साथी को शुभ फल मिलते हैं. जीवन सुखी होता है.

हरियाली तीज 2019 के शुभ मुहूर्त
तृतीया तिथि प्रारंभ – 01:36 बजे (3 अगस्त 2019)
तृतीया तिथि समाप्त – 22:05 बजे (3 अगस्त 2019)इस व्रत को सुहागिन महिलाएं और कुंवारी कन्‍याएं रखती हैं. लेकिन एक बार व्रत रखने के बाद जीवन भर इस व्रत को रखना पड़ता है.

तीज के व्रत के नियम

व्रत करने वाली महिला को किसी पर भी गुस्‍सा नहीं करना चाहिए.

व्रत करने वाली महिला को पति के साथ क्‍लेश नहीं करना चाहिए. मान्‍यता है कि ऐसा करने से व्रत अधूरा रह जाता है.

अगर आप इस व्रत को रख रही हैं तो किसी बुजुर्ग का अपमान न करें. मान्‍यता है कि ऐसा करने से व्रत का प्रताप नहीं मिलता है.

इस व्रत में सोने की मनाही है. यहां तक कि रात को भी सोना वर्जित है. रात के वक्‍त भजन-कीर्तन किया जाता है.

व्रत अगले दिन सूर्योदय के बाद माता पार्वती को सिंदूर चढ़ाने के बाद ही छोड़ा जाता है.

ये है पूजन विधि
शनिवार को सुबह जल्दी उठें और पूजा करने का संकल्प लें. स्नान के बाद घर के मंदिर में भगवान के सामने कहें कि हम पति-पत्नी पुत्र, पौत्र, सौभाग्य वृद्धि और श्री शिव-पार्वती की कृपा प्राप्ति के लिए पूजा करने का संकल्प लेते हैं.

इसके बाद शिव-पार्वती की मूर्ति स्थापित करें. मूर्ति को लाल कपड़े पर रखना चाहिए. इसके बाद आटे से बना दीपक घी भरकर जलाएं. पूजा, आरती करें. पूजा में ऊँ उमामहेश्वराय नम: मंत्र का जाप करें.

हरियाली तीज का महत्‍व
हरियाली तीज को ‘छोटी तीज’ और ‘श्रावण तीज‘ के नाम से भी जाना जाता है. सावन में पड़ने वाली यह तीज सुहागिन स्त्रियों के लिए बेहद महत्‍वपूर्ण है.

हिन्‍दू धर्म की मान्‍यताओं के अनुसार यह त्‍योहार पति के प्रति पत्‍नी के समर्पण का प्रतीक है. मान्‍यता है कि इस दिन गौरी-शंकर की पूजा करने से सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं

Trending Tags- Teej 2019 | hariyali teej 2019 |teej festival | happy teej 2019



1 thought on “Hariyali Teej 2019- सुहागिन रख रहीं हैं तीज का व्रत, जानिए शुभ मुहूर्त और पूजा विधि”

Leave a Reply

%d bloggers like this: