फिल्म बंद होने पर देर रात तक कंधे पर सिर रखकर रोया था- शेखर कपूर

sushant 4
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत ने 14 जून को दुनिया को अलविदा कह दिया. सुशांत की मौत अपने पीछे कई सवाल अधूरे छोड़ गई है.

सुशांत की मौत के बाद सोशल मीडिया पर यूजर्स जहां इसके लिए नेपोटिज्म को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं, वहीं डायरेक्टर शेखर कपूर ने भी कई खुलासे किए.

दरअसल सुशांत सिंह राजपूत के साथ काम कर चुके मनोज वाजपेयी के साथ डायरेक्टर शेखर कपूर ने इंस्टाग्राम लाइव किया. इस लाइव में डायरेक्टर शेखर कपूर ने बताया कि वो सुशांत के साथ फिल्म पानी में करने वाले थे.

इस फिल्म में सुशांत गोरा का किरदार निभाने वाले थे, फिल्म के लिए सुशांत ने तैयारियां भी शुरु कर दी थी.

शेखर कपूर ने कहा- “वो चीजों को लेकर काफी उत्साहित रहता था. एक अजीब सी रेस्टलेसनेस थी उसमें. वो मेरे साथ प्रोडक्शन डिजाइन की मीटिंग में होता था फिर वीएफएक्स की मीटिंग में होता था, वर्कशॉप में भी होता था. उसमें सीखने की जबरदस्त ललक थी और उसके अंदर चीजों को लेकर ऐसी उत्सुकता थी जो आपको बच्चों को देखने में मिलती है.”

शेखर कपूर ने कहा कि रात को 3-3 बजे वो फोन करता था और मैं बहुत खुश था कि मुझे इस फिल्म के लिए एक ऐसा एक्टर मिला है जो अपने रोल के लिए बेहद पैशनेट है.

शेखर कपूर ने आगे कहा- “लेकिन जब फिल्म से प्रोड्यूसर्स ने हाथ खींच लिए थे तो वो बहुत निराश हुआ था, बहुत रोया था सुशांत और उसके साथ ही मैं भी काफी इमोशनल हो गया था. लेकिन जिंदगी इसी का नाम है.”

बता दें शेखर कपूर, कंगना रौनत सहित कई एक्टर्स का आरोप है कि बॉलीवुड में कुछ सेलेब्स आउटसाइडर्स को बुली करते हैं जिसे न्यूकमर एक्टर्स डिप्रेशन में आ जाते हैं.