फीस का मैसेज भेजकर शिक्षामंत्री के आदेशों की धज्जियां उड़ा रहे स्कूल

Mobile Services
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

हरिद्वार. देश में कोरोना काल की वजह से लॉक डाउन है. सब कुछ बंद है. उनमें स्कूल और धार्मिक स्थल तक शामिल हैं. इसके मद्देनजर राज्य के शिक्षा मंत्री अरविंद पांडेय साफ कर चुके हैं कि लॉक डाउन में कोई भी स्कूल अध्यनरत छात्रों से फीस नहीं लेगा. इस संबंध में सचिव आर मीनाक्षी सुंदरम 25 मार्च को आदेश भी जारी कर चुकी हैं. इसमें कहा गया है कि लॉक डाउन के अंतराल में कोई भी शासकीय, अशासकीय और निजी विद्यालय छात्र-छात्राओं से फीस नहीं लेगा. मगर स्कूल संचालक इस आदेश की खुलकर धज्जियां उड़ा रहे हैं.

कई अभिभावकों ने सरकार और शिक्षा विभाग के अधिकारियों से गुहार लगाई है. इस बारे में जिला शिक्षा अधिकारी डॉ. आनंद भारद्वाज का कहना है कि सामने आए ऐसे मामलों की जांच कराई जा रही है. कई स्कूलों की जांच भी की जा चुकी है. यदि किसी भी स्कूल संचालक ने ऐसा किया या किसी भी बच्चे का नाम काटा तो उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी.

हिन्दुस्थान समाचार/रजनीकांत