शेल्टर होम में बच्चों के कोरोना पॉजिटिव होने के मामले में एमिकस क्युरी नियुक्त

नई दिल्ली, 07 (हि.स.). सुप्रीम कोर्ट ने शेल्टर होम में बच्चों को कोरोना से संक्रमित होने के मामले पर वकील गौरव अग्रवाल को कोर्ट की मदद करने के लिए एमिकस क्युरी नियुक्त किया है.

सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले में सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को नोटिस जारी कर जवाब दाखिल करने का निर्देश दिया है. इस मामले पर अगली सुनवाई 13 जुलाई को होगी.

सुनवाई के दौरान तमिलनाडु सरकार ने कोर्ट से कहा कि चेन्नई के शेल्टर होम में जिन बच्चों को कोरोना का संक्रमण हुआ था, वे स्वस्थ हो गए हैं और उन्हें वापस शेल्टर होम में लाया गया है. अब कोई नया मामला नहीं आया है. किसी दूसरे शेल्टर होम से कोरोना के संक्रमण की खबर नहीं है.

सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने उत्तर प्रदेश के कानपुर के जुवेनाइल होम में बच्चों के कोरोना संक्रमित होने की खबर पर यूपी सरकार से हलफनामा दाखिल करने का निर्देश दिया.

पिछली 11 जून को कोर्ट ने चेन्नई के शेल्टर होम में 35 बच्चों के कोरोना पॉजिटिव पाए पर स्वत: संज्ञान लिया था. जस्टिस एल नागेश्वर राव की अध्यक्षता वाली बेंच ने नाराजगी जाहिर करते हुए तमिलनाडु सरकार से जवाब दाखिल करने का निर्देश दिया था.

सुप्रीम कोर्ट ने बाकी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से भी चिल्ड्रेन होम में महामारी को रोकने के लिए उठाये कदमों की जानकारी मांगी थी. सुप्रीम कोर्ट ने सभी हाई कोर्ट के जुवेनाइल जस्टिस कमेटी से भी रिपोर्ट तलब की है.

हिन्दुस्थान समाचार/संजय/सुनीत/बच्चन

Leave a Reply

%d bloggers like this: