राष्ट्रीय अल्पसंख्यक शैक्षणिक संस्थान कानून को चुनौती, केंद्र को नोटिस

Supreme Court
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on whatsapp
WhatsApp

सुप्रीम कोर्ट ने राष्ट्रीय अल्पसंख्यक शैक्षणिक संस्थान कानून को चुनौती देने वाली याचिका पर सुनवाई करते हुए केंद्र सरकार को नोटिस जारी किया है. कोर्ट ने केंद्र सरकार को 6 हफ्ते में जवाब दाखिल करने का निर्देश दिया.

यह याचिका बीजेपी नेता और वकील अश्विनी उपाध्याय ने दायर की है. याचिकाकर्ता की तरफ से वरिष्ठ वकील विकास सिंह ने कहा कि हिंदू 10 राज्यों में अल्पसंख्यक हैं लेकिन उन्हें अब तक अल्पसंख्यक घोषित नहीं किया गया है. याचिका में आबादी के हिसाब से राज्यवार अल्पसंख्यकों की पहचान करने की मांग की गई है.

याचिका में कहा गया है कि कई राज्यों में हिन्दू,बहाई और यहूदी वास्तविक अल्पसंख्यक हैं लेकिन उन्हे वहां अल्पसंख्यक का दर्जा प्राप्त न होने के कारण अपनी पसंद के शैक्षणिक संस्थान खोलने और चलाने का अधिकार नहीं है.

याचिका में अल्पसंख्यक शिक्षा संस्थान कानून के लिए राष्ट्रीय आयोग कानून 2004 की धारा 2 (एफ) की वैधता को भी चुनौती दी गई है.

हिन्दुस्थान समाचार/संजय