RSS पदाधिकारियों की स्पेशल ब्रांच से जांच पर संजय मयूख ने सरकार से मांगा जवाब

पटना, 17 जुलाई. बिहार विधान परिषद में भाजपा के विधान पार्षद संजय मयूख ने राज्य सरकार के स्पेशल ब्रांच की तरफ से आरएसएस के पदाधिकारियों की विस्तृत जांच और डाटा कलेक्शन के मामले पर बिहार सरकार से इसका जवाब देने को कहा.

विधान परिषद में बुधवार को प्रश्नोत्तर काल समाप्त होते ही संजय मयूख ने इस मामले को उठाते हुए जनता दल यू के साथ मिलकर सरकार चला रहे राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन की अपनी ही सरकार से जवाब मांगा.

इस मुद्दे को उठाते हुए संजय मयूख ने कहा कि राज्य सरकार की स्पेशल ब्रांच की तरफ से संघ और उसके सभी सहयोगी संगठनों के पदाधिकारियों का डाटा कलेक्शन किया जा रहा है.

संजय मयूख ने मीडिया में चल रही इस तरह की खबरों का हवाला देते हुए कहा कि स्पेशल ब्रांच की एक चिट्ठी मीडिया में छपी है जिसके आधार पर इस तरह की खबरें चल रही हैं.

उन्होंने कहा कि इस चिट्ठी के अनुसार संघ और उसके सहयोगी संगठनों के पदाधिकारियों के बारे में विस्तृत जानकारी स्पेशल ब्रांच के एसपी ने मांगी है.

संजय मयूख ने सरकार से स्पेशल ब्रांच के इस आदेश को अविलंब स्पष्ट करने की मांग करते हुए कहा कि किन परिस्थितियों में और किस उद्देश्य से संघ और उसके सहयोगी संगठनों के पदाधिकारियों के बारे में विस्तृत जानकारी इकट्ठा की जा रही है? आपको बता दे कि बिहार में बीजेपी जदयू के साथ मिलकर सरकार चला रही है.

बीजेपी को आरएसएस का ही राजनीतिक संगठन माना जाता है. इसके बावजूद नीतीश सरकार द्वारा आरएसएस के पदाधिकारियों की विस्तृत जांच और डाटा कलेक्शन के मामले पर बीजेपी विधान पार्षद द्वारा सवाल उठाना लाजिमी है. संजय मयूख बीजेपी के विधान पार्षद होने के अलावा बीजेपी के राष्ट्रीय मीडिया सहसंयोजक भी हैं. हिन्दुस्थान समाचार/रजनी

Leave a Reply